Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बारामूला में आतंकियों ने एडीपी पर की फायरिंग- जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी ढेर, जानें IGP विजय कुमार क्या बोले

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कश्मीर जोन पुलिस ने कहा है कि बारामूला के चेरदारी में सेना और पुलिस के एडीपी पर आतंकियों ने फायरिंग की। अलर्ट दलों ने जवाबी कार्रवाई की और एक आतंकवादी मारा गया।

बारामूला में आतंकियों ने एडीपी पर की फायरिंग- जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी ढेर, जानें IGP विजय कुमार क्या बोले
X

जम्मू कश्मीर (Jaamu Kashmir) में आतंकवादी अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। आतंकवादी आए दिन सुरक्षाबलों को निशाना बनाने की फिराक में लगे रहते हैं। ऐसा ही एक ताजा मामला जम्मू कश्मीर के बारामूला (Baramulla) से सामने आया है। बारामूला के चेरदारी में सेना और पुलिस के एडीपी पर आतंकियों ने फायरिंग की है। तत्काल सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई में 1 आतंकी को ढेर कर दिया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कश्मीर जोन पुलिस ने कहा है कि बारामूला के चेरदारी में सेना और पुलिस के एडीपी पर आतंकियों ने फायरिंग की। अलर्ट दलों ने जवाबी कार्रवाई की और एक आतंकवादी मारा गया। शिनाख्त की जा रही है। उसके पास से एक पिस्टल, एक लोडेड मैगजीन और एक पाक ग्रेनेड बरामद किया गया है।

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने कहा कि मारा गया आतंकवादी हाइब्रिड टाइप का है, जिसकी पहचान कुलगाम जिले के जावेद आह वानी के रूप में हुई है और उसने वानपोह में बिहार के 2 मजदूरों की हत्या में आतंकवादी गुलजार (जो 20 अक्टूबर को मारा गया था) की मदद की है। वह बारामूला में एक दुकानदार को निशाना बनाने के मिशन पर था।

एनआईए ने 17 ठिकानों पर की छापेमारी

जानकारी के लिए आपको बता दें कि जमात-ए-इस्लामी टेरर फंडिंग केस में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने बीते बुधवार को जम्मू कश्मीर के 7 जिलों में 17 स्थानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान एनआईए की टीम ने अनेक आपत्तिजनक दस्तावेज और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बरामदब किये। एएनआई की तलाशी में जमात-ए-इस्लामी के पदाधिकारियों और सदस्यों के ठिकाने भी शामिल रहे।

एनआईए के एक आला अधिकारी ने बताया था कि छापेमारी प्रदेश के अनंतनाग, कुलगाम, गांदर बंद, बांदीपोरा, बड़गांव, किश्तवाड़ और जम्मू जिलों में की गई। एनआईए को गुप्त सूचना मिली थी कि जमाते इस्लामी टेरर फंडिंग से संबंधित कुछ नई चीजें इन जगहों पर छापेमारी के दौरान बरामद हो सकती हैं। लिहाजा 7 जिलों के 17 स्थानों पर एक साथ एक समय पर छापेमारी की गई।

और पढ़ें
Next Story