Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ताजमहल से पहले था जयपुर राजघराने का पैलेस, सांसद दीया बोलीं- हम दस्तावेज देने को तैयार

आगरा में 'ताजमहल बनाम तेजो महल' को लेकर चल रही तेज बहस के बीच राजसमंद सांसद दीया कुमारी ने ऐसा बयान दिया है, जिसने सबको चौंका दिया है। पढ़िये यह रिपोर्ट...

ताजमहल से पहले था जयपुर राजघराने का पैलेस, सांसद दीया बोलीं- हम दस्तावेज देने को तैयार
X

सांसद दीया कुमारी पत्रकारों से बात करती हुईं। 

Taj Mahal Vs Tejo Mahalaya Controversy: आगरा में ताजमहल बनाम तेजो महल को लेकर चल रही तेज बहस के बीच राजसमंद सांसद दीया कुमारी (MP Diya Kumari) ने ऐसा बयान दिया है, जिसने सबको चौंका दिया है। उनका कहना है कि ताजमहल जिस जमीन पर बना है, उस पर जयपुर राजघराने का पैलेस (Jaipur Royal Palace) होता था। कहा कि मुगल शासक शाहजहां (Shah Jahan) ने जबरन पैलेस पर कब्जा कर लिया और राजघराना मुआवजा के लिए भी अपील नहीं कर सका। अगर कोर्ट कहेगी तो वे तमाम दस्तावेज दे सकती हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सांसद दीया कुमारी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि ताजमहल की जमीन से संबंधित सभी दस्तावेज हमारे पास उपलब्ध हैं। इन दस्तावेजों से पता चलता है कि ताजमहल से पहले वहां जयपुर राजघराने का पैलेस था। शाहजहां ने पैलेस पर कब्जा कर लिया था। आज सरकारें जमीन अधिग्रहण करती है तो मुआवजा देती है। उस वक्त ऐसा कोई कानून नहीं था। राजघराने को मुआवजा दिया गया था, लेकिन कानून न होने के चलते राजघराने की ओर से उचित मुआवजा के लिए भी अपील नहीं की गई। उन्होंने कहा कि राजघराने के पोथी खाने में दस्तावेज मौजूद हैं। अगर कोर्ट आदेश दे तो वह दस्तावेज मुहैया करा देंगी।

जानिये सांसद दीया कुमारी

जयपुर के पूर्व महाराजा सवाई भवानी सिंह और महारानी पद्मिनी देवी के घर में दीया कुमारी का जन्म हुआ। वे राजघराने की इकलौती संतान हैं। उन्होंने उच्च शिक्षा लंदन से की है। उन्होंने नरेन्द्र सिंह से प्रेम विवाह किया था। दोनों एक ही गोत्र से थे, लिहाजा उन्हें भारी नाराजगी झेलनी पड़ी थी। 2018 में पति से तलाक के फैसले ने भी सबको चौंका दिया था। अब ताजमहल को लेकर दिए बयान से वे दोबारा से देशभर की सुर्खियों में आ गई हैं।


और पढ़ें
Next Story