Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Article 370 पर सुप्रीम कोर्ट की याचिकाकर्ताओं को फटकार, CJI बोले- दोबारा दाखिल करें याचिका

जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाली धारा 370 5 अगस्त को खत्म कर दी गई । जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट इसके खिलाफ 8 याचिकादायर की गई। शुक्रवार को याचिका पर सुनवाई करते हुए जज रंजन गोगोई ने दोबारा याचिका दाखिल करने के लिए आदेश दिया है।

Article 370 पर सुप्रीम कोर्ट की याचिकाकर्ताओं को फटकार, CJI बोले- दोबारा दाखिल करें याचिका

जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाली धारा 370 5 अगस्त को खत्म कर दी गई । जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट इसके खिलाफ 8 याचिकादायर की गई। शुक्रवार को याचिका पर सुनवाई करते हुए जज रंजन गोगोई ने दोबारा याचिका दाखिल करने के लिए आदेश दिया है।

धारा 370 पर वकील एम.एल शर्मा और कश्मीर टाइम्स की कार्यकारी संपादक अनुराधा भसीन ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिस पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एस.ए नजीर और जस्टिस एस.ए बोबडे की विशेष पीठ ने सुनवाई की।

अनुच्छेद 370 पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने याचिकाकर्ता को लगाई फटकार लगाते हुए कहा कि यह किस तरह की अर्जी है। आधे घंटे अध्ययन के बाद भी समझ नहीं आया कि याचिका में क्या कहा गया है।

सुप्रीम कोर्ट ने वकीलों से धारा 370 पर दाखिल की गईं याचिकों में कई खामियां बताई हैं। फिलहाल सुनवाई को स्थगित कर दिया गया है। केंद्र सरकार के वकील ने कोर्ट में कहा कि धीरे धीरे पाबंदियां हटाई जा रही हैं। वहीं कश्मीर में स्थिति सामान्य है।

कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि जम्मू कश्मीर में मीडिया पर लगी पाबंदी पर थोड़ा और वक्त देने चाहिए। हमने जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय के चीफ से बात की। वहां के हालात पर चर्चाएं की।

वकील एम.एल शर्मा ने धारा 370 पर और संपादक अनुराधा भसीन ने राज्य में सभी कम्युनिकेशन बंद करने के सम्बन्ध में याचिका दायर की थी, भसीन ने इन्टरनेट-मोबाइल समेत सभी संचार के माध्यमों को फिर से शुरू करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी, जबकि एम.एल शर्मा ने धारा 370 हटाये जाने को पूरी तरह गलत बताया था।

Share it
Top