Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Nirbhaya Rape Case: सुप्रीम कोर्ट ने ये कहते हुए खारिज की मुकेश ठाकुर की अर्जी

Nirbhaya Rape Case : निर्भया गैंगरेप के दोषियों में शामिल मुकेश ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में राष्ट्रपति के फैसले को चुनौती दी थी। आज सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया गैंगरेप दोषी मुकेश की अर्जी खारिज कर दी है। निर्भया के चारो आरोपियों को 1 फरवरी 2020 की सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी।

Nirbhaya Rape Case: दोषी मुकेश को भी होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की अर्जी
X
Nirbhaya Rape Case: दोषी मुकेश

Nirbhaya Rape Case : देश की सर्वोच्च अदालत ने निर्भया गैंगरेप के दोषियों में एक मुकेश की अर्जी खारिज कर दी है। निर्भया गैंगरेप दोषी मुकेश ने राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज करने के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। आज सुप्रीम कोर्ट ने मुकेश की अर्जी खारिज करते हुए कहा कि सभी प्रक्रिया पूरी होने के बाद केस से जुड़े दस्तावेजों के साथ दया याचिका की मांग राष्ट्रपति के पास की गई थी। राष्ट्रपति जी ने केस से जुड़े फैसलों और दस्तावेजों को ध्यान में रखते हुए ही अपना फैसला सुनाया था।

इससे पहले निर्भया गैंगरेप के आरोपियों को दिल्ली कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी, इसके बाद दोषियों ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर की थी। राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज हुई तो नए डेथ वारंट के तहत 1 फरवरी 2020 दोषियों की फांसी का दिन तय हुआ। निर्भया गैंगरेप के चारो आरोपियों को 1 फरवरी 2020 सुबह 6 बजे दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी दी जाएगी। इस फैसले को देश के सभी लोग एक आस की तरह देख रहे हैं ताकि रेप जैसी घटनाओं पर रोक लग सके।

आज से लगभग 7 साल पहले 6 दरिंदों ने मिलकर निर्भया के साथ दिल्ली में गैंगरेप किया था। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद निर्भया ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। तब से लेकर आज तक इन दोषियों के खिलाफ फांसी की सजा की मांग उठ रही है।

आज 7 साल बाद दिल्ली की कोर्ट ने दोषियों को फांसी की सजा सुनाई तो चारो आरोपी बचने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं लेकिन उन्हें कहीं से कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही। आपको बता दें कि 6 आरोपियों में से 1 को नाबालिग होने के चलते जुवेनाइल भेज दिया था और फिर वहां से वो रिहा हो गया था वहीं दूसरे आरोपी (राम सिंह) ने तिहाड़ जेल में फांसी लगा ली थी।

Next Story