Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sardar Patel Birth Anniversary : जानें कैसे 100 महानतम स्थानों में शुमार हुआ Statue Of Unity, एक ही दिन में बन गया था ये बड़ा रिकॉर्ड

हर साल 31 अक्टूबर को देश के प्रथम गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल (Sardar Vallabhbhai Patel) की जंयती मनाई जाती है। इस बार 144वीं जयंती (144th Birth Anniversary) मनाई जा रही है। इस खास मौके पर मोदी सरकार एक बड़ा जश्न करने को तैयार है।

Sardar Patel Birth Anniversary : जानें कैसे 100 महानतम स्थानों में शुमार हुआ Statue Of Unity, एक ही दिन में बन गया था ये बड़ा रिकॉर्ड
X
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी

हर साल 31 अक्टूबर को देश के प्रथम गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल (Sardar Vallabhbhai Patel) की जंयती मनाई जाती है। इस बार 144वीं जयंती (144 Birth Anniversary) मनाई जा रही है। इस खास मौके पर मोदी सरकार एक बड़ा जश्न करने को तैयार है। एक साल पहले ही पीएम मोदी ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी (Statue of Unity) का उद्घाटन किया था।

दुनिया के 100 महानतम स्थानों में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी

एक साल पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' का उद्घायन किया था। जो अब एक बड़ा टूरिस्ट हब बन चुका है। यहां हल दिन हजारों की संख्या में टूरिस्ट आ रहे हैं। लेकिन कैसे एक साल के अंदर ही 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' दुनिया के 100 महानतम स्थानों में शुमार हो गया। अमेरिका की सबसे फेमस पत्रिका टाइम ने दुनिया के 100 महानतम स्थानों में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को जगह दी है।


एक दिन में बन गया था रिकॉर्ड

इसके पीछे की वजह पीएम मोदी हैं, जिन्होंने टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए इसका उद्घाटन किया और लोगों को यहां आने के लिए प्रेरित किया। पहले ही दिन यहां 34 हजार टूरिस्ट आए और यह एक वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गया। ये जगह लोकप्रिय पर्यटन स्थल के रूप में आगे बढ़ रहा है। पीएम मोदी ने इसका लिंक भी शेयर किया था।

सरदार पटेल की याद में बना है ये स्टैच्यू

नर्मदा नदी के किनारे बसा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए भारत ही नहीं विदेशों से टूरिस्ट भी आते हैं। ताज महल और कुतुबमीनार को देखने आने वाले टूरिस्ट भी इसे देखने आते हैं। मोदी सरकार ने इस स्टैच्यू को देश के प्रथम गृहमंत्री रहे सरदार वल्लभभाई पटेल की याद और उनके सम्मान में बन वाया है। जो मानसरोवर डैम पर बन हुआ है। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी और डैम को देखने की टिकट सिर्फ 350 रुपये है।


पीएम मोदी ने किया था उद्घायन

बीती 31 अक्टूबर 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नर्मदा के केविड़या में स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा का उद्घाटन किया था। जिसे स्टैच्यू ऑफ यूनिटी कहा जाता है। इस दिन को रन फॉर यूनिटी भी कहा जाता है। इस दिन कई कार्यक्रम आयोजित होते हैं। अमेरिका के स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से भी ऊंचा है ये स्टैच्यू।


ऐसे तैयार हुआ स्टैच्यू ऑफ यूनिटी

खास बात यह है कि इस प्रतिमा के लिए देश में लोहा इकट्ठा करने का अभियान भी चलाया था। इस बनवाने में 2 हजार 989 करोड़ का खर्चा आया था। वहीं 6 लाख ग्रामीणों ने लोहा दान किया था। इसका निर्माण कार्य मूर्तिकार पद्म भूषण राम वनजी सुतार को दिया गया था। जिन्होंने चीनी इंजीनियरों की मदद से ये प्रतिमा बनवाई थी। इस प्रतिमा को 7 किलोमीटर की दूरी से देखा जा सकता है। इस प्रतिमा के अलावा डैम और जंगल सफारी का भी मजा ले सकते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story