Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महाराष्ट्र में आधी रात को जमीन के नीचे से आई तेज गड़गड़ाहट की आवाज, दो दिनों से दहशत में लोग

जब आप सोए हों और अचानक से जमीन के नीचे से तेज गड़गड़ाहट की आवाज आने लगे और पता लगे की वो भूकंप भी नहीं है तो किसी भी व्यक्ति की डर से हालत खराब हो जाएगी।

महाराष्ट्र में आधी रात को जमीन के नीचे से आई तेज गड़गड़ाहट की आवाज, दो दिनों से दहशत में लोगक्यों आई गड़गड़ाहट की आवाज

महाराष्ट्र के हिंगोली जिले के बोथी गांव के लोगों में दहशत का माहौल उत्पन्न हो गया जब लोगों ने जमीन के नीचे से गड़गड़ाहट की आवाज सुनी। 27 फरवरी की आधी रात से सुबह के करीब 4 बजे तक ऐसी आवाज ने लोगों को नींद से जगा दिया।

लोग भूकंप समझकर घर से बाहर दौड़ पड़े। लेकिन पता लगा कि वो आवाज भूकंप की नहीं थी। ये जानकर लोगों की हालत ज्यादा खराब हो गई। लोग इतना डर गए हैं कि करीब दो दिनों से उनकी नींद भी उड़ गई है।

बासमत गांव में भी सुनाई पड़ी थी ये आवाज

रिटायर्ड भूकंप विज्ञानी अरुण बापट ने बताया कि तीन दशक पहले भी ये आवाज सुनाई पड़ी थी। बोथी गांव से 40 किमी दूर बासमत गांव में जब ये आवाज सुनाई पड़ी थी, तब भी लोगों की नींद उड़ गई थी। रिटायर्ड भूकंप विज्ञानी अरुण बापट ने बताया कि उस समय वो उसी गांव में रहते थे।

क्या है इस गड़गड़ाहट का रहस्य

रिटायर्ड भूकंप विज्ञानी अरुण बापट ने इस आवाज के रहस्य से पर्दा उठाते हुए बताया कि बोथी और आसपास का इलाका घाटी की तरह का है। जहां पानी ऊंचे स्थान से अंडाकार घाटी में आकर जमीन के नीचे इकट्ठा होते हैं। उस जगह की बनावट के साथ चट्टानें भी सुराखों वाली होने के कारण पानी सूखकर छोटे कणों के रूप में इकट्ठा रहता है। लेकिन जैसे ही तापमान बढ़ता है, पानी भाप बनकर बादल का रूप ले लेते हैं और जब वो फैलते हैं तो गड़गड़ाहट की आवाज आती है। रिटायर्ड भूकंप विज्ञानी अरुण बापट ने ये भी कहा कि अब गर्मी के मौसम आने के स्थिति में धरती का तापमान बढ़ने लगा है। इसलिए ऐसी आवाजें सुनाई दे रही है। लोगों को डरने की आवश्यकता नहीं है।

Next Story
Top