Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोनम वांगचुक ने सूरज की गर्मी से काफी गर्म रहने वाला टेंट किया तैयार, लद्दाख में सेना के लिए साबित होगा कारगर

सोनम वांगचुक ने लद्दाख में तैनात जवानों के लिए नायब टेंट का आविष्कार कर दिया है। जो खून जमा देने वाली सर्दी में सिर्फ सूरज की गर्मी से काफी गर्म रहता है।

Sonam Wangchuk 3 idiots funsung wangdu invent Solar Heated Military Tents for Indian Army soldiers in Ladakh
X

सोनम वांगचुक का आविष्कार 

सोनम वांगचुक (Sonam Wangchuk) ने लद्दाख (Ladakh) में तैनात जवानों (soldiers) के लिए नायब टेंट (Tent) का आविष्कार कर दिया है। जो खून जमा देने वाली सर्दी में सिर्फ सूरज की गर्मी से काफी गर्म रहता है। बॉलीवुड मशहूर फिल्म 'थ्री ईडियट्स' ('three idiots') में भी इनसे प्रभावित होकर फुंशुक बांगडू (Funshuk Bangdu) किरदार रखा गया था। इसे अभिनेता आमिर खान (Actor Aamir Khan) ने निभाया था। सोनम वांगचुक ने रविवार को यू ट्यूब पर वीडियो (Video on youtube) जारी करके इस टेंट के विस्तृत फायदे भी बताएं हैं।

सोनम वांगचुक ने अपने यूट्यूब चैनल पर आज अपलोड की गई वीडियों में इस नायब टेंट के तमाम फायदे बताएं है। साथ ही इसके इस्तेमाल की विधि भी सही ढ़ंग से बताई है। साथ इस टेंट को भारतीय सैनिकों के लिए एक उपहार की तरह बताया है। इससे पहले सोनम वांगचुक ने ट्वीट कर इस टेंट के लिए भरपूर समर्थन करने के लिए सभी को धन्यवाद दिया।

सोनम वांगचुक द्वारा तैयार किया गया टेंट लद्दाख की खून जमा देने वाली सर्दी में बिना लकड़ी, किरोसीन के सिर्फ सूरज किरणों से ही काफी गर्म रहता है। जो लद्दाख में तैनात जवानों के लिए कारगर साबित होगा। इस नायब टेंट के अंदर 20 डिग्री तापमान रहता है। जो जवानों के टेंट में रहने के लिए उचित तापमान है। इस टेंट की खासियत ये है कि इसमें 20 डिग्री तापमान उस वक्त रहता है। जब माइनस 20 डिग्री तापमान बाहर हो।

सोनम वांगचुक ने शुक्रवार को ट्वीट के माध्यम इस नायब टेंट की विशेषताएं भी साझा की हैं। सोनम ने बताया कि गलवान वैली में रात 10 बजे के वक्त टेंट के बाहर का तापमान -14°C था। वहीं उसी वक्त टेंट के अंदर का तापमान +15°C पाया गया। इस टेंट में रहने लायक तापमान के लिए तैयार करने के लिए ना तो लकड़ी और ना ही किरोसिन की जरूरत होती है। साथ ही इस टेंट की वजह से किसी भी तरह का प्रदूषण नहीं होता है। इस का वजन 30 किलो है और पूरी तरह से पोर्टेबल है। इस टेंट के अंदर सेना के 10 जवान रह सकते हैं।

भारतीय सेना के जवान इस टेंट का इस्तेमाल करके आसानी से लद्दाख की सर्द रातों को आसानी से गुजार सकेंगे। यह सोलर हीटेड मिलिट्री टेंट की खास बात ये है कि यह सिर्फ सौर ऊर्जा की सहायता से काम करता है। सोनम के इस नए आविष्‍कार में सेना भी रूचि दिखा रही है। सोनम का यह नया आविष्‍कार को ऐसे सभी जवानों के लिए कारगर साबित होगा। जो लद्दाख में खून जमा देने वाली सर्दी में तैनात रहते हैं।

और पढ़ें
Next Story