Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

असम: एक मौलाना के जनाजे में हजारों की संख्या में लोग हुए शामिल, 3 गांव सील

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के विधायक अमिनुल इस्लाम के पिता खैरुल इस्लाम का 87 साल की उम्र में दो जुलाई को निधन हो गया था।

Coronavirus Lockdown: जम्मू-कश्मीर को किया गया पूरी तरह से बंद, 24 इलाके रेड जोन घोषित
X
कोरोना के डर से 3 गांव सील- फ़ोटो फ़ाइल

देश भर में कोरोना वायरस ने इस वक़्त कहर बरपाया हुआ है। प्रतिदिन कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते इन दिनों सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया जा रहा है। ऐसे में किसी के भी अंतिम संस्कार में 20 से अधिक लोगों को जाने की अनुमति नहीं दी जाती है। लेकिन असम के नगांव जिले में लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया है। यहां पर एक मौलाना का निधन हो गया। मौलाना को आखिरी विदाई देने के लिए लगभग 10 हजार लोग जुट गए। इसके बाद प्रशासन को मजबूरन 3 गांवों को सील करने का निर्णय लेना पड़ा। खबरों की माने तो इस मामले में केस भी दर्ज किया गया है।

10 हजार से ज्यादा लोग जुटे

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के विधायक अमिनुल इस्लाम के पिता खैरुल इस्लाम का 87 साल की उम्र में दो जुलाई को निधन हो गया। खैरुल इस्लाम नॉर्थ ईस्ट में ऑल इंडिया जमात उलेमा और आमिर-ए-शरियत के उपाध्यक्ष थे। अपने इलाके में मशहूर खैरुल इस्लाम के जनाजे में हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए। जिला प्रशासन के अनुसार, करीब 10 हजार लोग जुटे थे।

नगांव के उपायुक्त जादव सैकिया ने बताया कि इस मामले के संबंध में अब तक दो मामले दर्ज किए गए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए आसपास के 3 गांवों को लॉकडाउन कर दिया गया है।

Next Story