Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्किन केयर एक्सपर्ट शहनाज हुसैन ने बताया, एलोवेरा से ऐसे त्वचा को निखारें

एलोवेरा सिर्फ घर के बागीचे की शोभा ही नहीं बढ़ाता, आपका सौंदर्य भी बढ़ाता है। इसके उपयोग से आपकी त्वचा निखरती है। एलोवेरा के नियमित उपयोग से त्वचा हमेशा कोमल-मुलायम बनी रहती है। यह त्वचा को झुर्रियों से बचाकर आपको युवा बनाए रखता है। इन दिनों गर्मियों मे तो इसका और भी महत्व बढ़ जाता है।

स्किन केयर शहनाज हुसैन ने बताया, एलोवेरा से ऐसे त्वचा को निखारें
X

एलोवेरा का पौधा जहां औषधीय गुणों से संपन्न है, वहीं यह पौधा आपके रूप-सौंदर्य को निखारता भी है। एलोवेरा मॉयश्चराइजर जैसे सौंदर्य प्रसाधनों में भी प्रयोग किया जाता है। इसके पौधे में आर्द्रता रोकने की भरपूर क्षमता होती है। यह ताकतवर प्राकृतिक मॉयश्चराइजर माना जाता है। यह त्वचा की मृत कोशिकाओं को मुलायम बनाता है, इन्हें हटाने में मदद करता है, जिससे त्वचा कोमल और चमकदार बनती है।

एलोवेरा त्वचा में आर्द्रता की क्षमता को बनाए रखने में मददगार होता है। जिससे त्वचा सामान्य रूप से कार्य करती है। इससे त्वचा में आर्द्रता, मुलायमपन, शीतलता बनी रहती है। एलोवेरा के उपचारात्मक गुणों की वजह से यह सूर्य की गर्मी से प्रभावित त्वचा को सामान्य बनाने में प्रभावशाली परिणाम दिखाता है। इसके अलावा एलोवेरा के उपयोग के बहुत से फायदे हैं, जैसे-

- एलोवेरा में एंटीऑक्सीडेंट्स गुण विद्यमान होते हैं, जो कि त्वचा की कोशिकाओं के नवीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित करती हैं।

- एलोवेरा के उत्पादों के लगातार प्रयोग से त्वचा पर उम्र के प्रभाव को कम करने में मदद मिलती है। एलोवेरा एस्ट्रिंजिंट क्रिया करके त्वचा को कसकर बांध देता है, जिससे समय से पूर्व झुर्रियां नहीं आतीं, यह झुर्रियां को रोकने में मददगार होता है।

-एलोवेरा जैल त्वचा की नई कोशिकाओं की उत्पत्ति में भी सहायक होता है, ये त्वचा के विभिन्न रोगों का उपचार करता है। सामान्य प्रसाधन सामग्री में भी मददगार साबित होता है।

- एलोवेरा जैल को प्रतिदिन चेहरे पर 20 मिनट तक लगाकर साफ ताजे पानी से धोना चाहिए। इससे त्वचा मुलायम रहती है, आर्द्रता बनाए रखने में मदद मिलती है।

- यदि एलोवेरा का नियमित रूप से सेवन किया जाए तो यह त्वचा के यौवन को बरकरार रखने में मददगार साबित होता है।

- त्वचा में नमी प्रदान करने के लिए एक कटोरी में दो चम्मच एलोवेरा जैल और दो चम्मच बादाम तेल मिलाकर सोने से पहले चेहरे पर लगा लें। सुबह साफ-ताजे पानी से धो लें।

- एलोवेरा सर्दियों में विशेष रूप से लाभदायक साबित होता है, क्योंकि यह त्वचा के रूखेपन को दूर करके त्वचा को मुलायम संरचना को बरकरार रखता है।

- एलोवेरा सूर्य की गर्मी से प्रभावित त्वचा को शांत करने में भी मदद करता है। एलोवेरा त्वचा को तैलीय बनाए बगैर त्वचा में नमी को बनाए रखने में भी मदद करता है।

-ताजे एलोवेरा जैल के प्रयोग से त्वचा के बाहरी हिस्से के उपचार में मदद मिलती है। एलोवेरा पौधे में विद्यमान पोषक मिनरल जिंक, एंटी इनफ्लेमेटरी का कार्य करता है, त्वचा में सूजन को रोकता है।

- चेहरे पर झुर्रियां मिटाने के लिए एलोवेरा का गूदा और बेसन मिलाकर बने लेप को चेहरे पर लगाएं, बाद में ताजे साफ पानी से धो लें। इस प्रक्रिया को आप हफ्ते में दो बार कर सकती हैं।

- गर्मी के दिनों में सूर्य की तेज धूप की वजह से त्वचा में कालापन अकसर आ जाता है। इस कालेपन को रोकने के लिए एलोवेरा के गूदे में नीबू का रस मिलाकर त्वचा पर लगा कर आधे घंटे बाद ताजे साफ पानी से धो लें। गर्मियों में आप इसे हफ्ते में तीन बार दोहरा सकती हैं।

-कील-मुंहासों की समस्या से हमें अकसर जूझना पड़ता है। एलोवेरा जैल में गुलाबजल मिलाकर बने पेस्ट को आधा घंटा तक लगाने के बाद साफ ताजे पानी से धो लेने से इस समस्या का निदान मिल सकता है। इसे आप हफ्ते में तीन दिन तक दोहरा सकती हैं।

Next Story