Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कानपुर मुठभेड़: शिवसेना का योगी सरकार पर तंज, सामना में लिखा- एनकाउंटर स्पेशलिस्ट उत्तर प्रदेश सरकार की पोल खोल गई

शिवसेना ने अपनी पूर्व सहयोगी भारतीय जनता पार्टी को हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की सहायता से कानपुर में पुलिस अधिकारियों की कथित हत्याओं पर तंज कसा है।

शिवसेना का आरोप, भाजपा हिंदू-मुसलमान में बंटवारे की कोशिश कर रही
X
शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे

शिवसेना ने अपनी पूर्व सहयोगी भारतीय जनता पार्टी को हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की सहायता से कानपुर में पुलिस अधिकारियों की कथित हत्याओं को लेकर तंज कसा है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा कि घटना साबित करती है कि उत्तर प्रदेश अभी भी भारत की अपराध राजधानी है।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में एक संपादकीय में दावा किया कि दो जुलाई को दुबे की सहयोगी पुलिसकर्मियों की हत्याओं से पता चलता है कि उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में कुछ भी नहीं बदला है। कानपुर मुठभेड़ को लेकर शिवसेना ने सोमवार को कहा कि कानपुर मुठभेड़ ने एनकाउंटर स्पेशलिस्ट उत्तर प्रदेश सरकार की पोल खोल दी है और इस घटना से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के राज्य में गुंडई खत्म करने के दावे पर सवाल खड़े हो गए हैं। कानपुर में मुठभेड़ में 6 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी।

शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा कि उत्तम प्रदेश अब पुलिसकर्मियों के खून से रक्तरंजित है और इस घटना ने देश को स्तब्ध कर दिया है। पिछले सप्ताह कानपुर के निकट एक गांव में एक पुलिस उपाधीक्षक समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या गैंगेस्टर विकास दुबे के गुंडों ने कर दी। मुख्य आरोपी विकास दुबे का एक सहयोगी गिरफ्तार हुआ है जबकि दुबे खुद फरार है।

शिवसेना ने कहा कि ऐसी खबरें हैं कि दुबे घटना के बाद नेपाल फरार हो गया है। मराठी मुखपत्र सामना में कहा गया कि भारत का संबंध नेपाल के साथ अभी अच्छा नहीं है। संपादकीय में यह उम्मीद जताई गई है कि भारत के लिए दुबे नेपाल में दाऊद जैसा न साबित हो। मुखपत्र में प्रत्यक्ष तौर पर दाऊद का जिक्र उन खबरों के हवाले से किया गया जिनमें यह बताया गया है कि दाऊद इब्राहीम भारत से भागने के बाद पाकिस्तान में रह रहा है।


Next Story