Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

NSA अजीत डोभाल के घर सुरक्षा के मद्देनजर हुई अहम बैठक, शिया धर्मगुरु और स्वामी चिदानंद सरस्वती मिले

शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद और स्वामी चिदानंद सरस्वती ने दिल्ली में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से उनके आवास पर मुलाकात की।

शिया धर्मगुरु और स्वामी चिदानंद सरस्वती अजीत डोभाल से मिलने पहुंचेमौलाना कल्बे जवाद, स्वामी चिदानंद सरस्वती और अजीत डोभाल

अयोध्या फैसले के बाद देश में सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जवाद और स्वामी चिदानंद सरस्वती ने दिल्ली में आज राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से उनके आवास पर मुलाकात की है। इस मुलाकात को अंतर-धार्मिक आस्था बताया जा रहा है।

रामदेव ने कहा कि इस देश में धर्म के नाम पर कई लोगों ने अपनी रोटी सेकी है। कुछ असहमति होती है लेकिन हम सुप्रीम कोर्ट का फैसला करते हैं। वहीं कल्बे ने कहा कि सरकार ने बड़ा मुद्दा नहीं बनने दिया और कई दशकों से चला मुद्दें को शांति से निपटाया। सभी मुस्लिम भाइयों ने काफी शांति और भाई चारे की भावन से सयंम बनाए रखा।

अजीत डोभाल इस बैठक में कई मुद्दों जैसे सामुदायिक मामलों और कानून व्यवस्था को लेकर बातचीत की है। इस बैठक में शिया धर्मगुरु कल्बे जवाद, स्वामी रामदेव समेत कई लोगों शामिल हुए हैं।

इससे पहले बीते शनिवार को स्वामी स्वामी अवधेशानंद गिरि ने अजीत डोभाल से मुलाकात की थी। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या समेत देश में शांति का माहौल बना रहे इसके लिए जरुरी कदमों को लेकर बातचीत की थी।

अवधेशानंद गिरि हिंदू धर्म आचार्य सभा के साथ स्वामी परमात्मानंद के अध्यक्ष हैं और वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबसे करीबी माने जाते हैं।

Next Story
Share it
Top