Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

विदेश मामलों की संसदीय कमेटी के सदस्य नहीं बनेंगे शशि थरूर, बताई ये वजह

थरूर (Shashi Tharoor) इस बार दोबारा अध्यक्ष (President) न बनाए जाने से नाराज चल रहे थे। उन्होंने हाल ही में दावा किया था कि सरकार (Govt) ने विपक्षी नेता (Opposition Leaders) को इस कमेटी का अध्यक्ष बनाने की परंपरा को खत्म करने का फैसला कर लिया है।

एशियन पार्लियामेंट्री असेंबली की मीटिंग में थरूर ने कश्मीर पर लगाई पाकिस्तान की क्लास, दिया ये जवाबShashi Tharoor Response Pakistan In Asian Parliamentary Assembly Meeting Over Kashmir Issue

कांग्रेस सांसद (Congress MP) और पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने विदेश मामलों की संसदीय कमेटी (Parliamentary Committie Of Foreign Affairs) में शामिल होने से इनकार कर दिया है। बीते साल थरूर इस कमेटी के अध्यक्ष थे।

दोबारा अध्यक्ष न बनाए जाने से थे नाराज

खबरों के मुताबिक थरूर इस बार दोबारा अध्यक्ष न बनाए जाने से नाराज चल रहे थे। उन्होंने हाल ही में दावा किया था कि सरकार ने विपक्षी नेता को इस कमेटी का अध्यक्ष बनाने की परंपरा को खत्म करने का फैसला कर लिया है।

पहले कर चुके हैं कमेटी की अध्यक्षता

बता दें कि लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ने बीते महीने थरूर को इस कमेटी के सदस्य के तौर पर नामित किया था। थरूर ने इसके लिए उनको धन्यवाद देते हुए कहा कि वे उस पैनल का सदस्य नहीं बनना चाहते, जिसकी उन्होंने कभी अध्यक्षता की थी। थरूर ने कहा कि वे पहले ही सूचना प्रौद्योगिकी मामलों के लिए बनाई गई स्टैंडिंग कमेटी की अध्यक्षता कर रहे हैं। ऐसे में उनके पास पहले से ही जिम्मेदारी है।

Next Story
Share it
Top