Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Violence: आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह ने अमित शाह पर लगाया आरोप, कहा दिल्ली हिंसा में आपके लोग थे शामिल

Delhi Violence: आप नेता संजय सिंह ने अमित शाह को दिल्ली हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया। जिसके जवाब में अमित शाह ने कहा कि दिल्ली हिंसा में जिम्मेदार लोग किसी भी पार्टी के हों, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

Delhi Violence: आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह ने अमित शाह पर लगाया आरोप, कहा दिल्ली हिंसा में आपके लोग थे शामिल
X
संजय सिंह

Delhi Violence: आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने अमित शाह को दिल्ली हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा है कि अमित शाह घर में बैठकर हिंसा का मजा उठा रहे थे। साथ ही उन्होंने अमित शाह की तरफ इशारा करते हुए ये भी कहा कि आपके लोग दिल्ली हिंसा में शामिल थे।

अमित शाह लोगों से मिलने क्यों नहीं गए

संजय सिंह ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह घर में बैठकर दंगे का लुत्फ उठा रहे थे। वो मुझे बताएं कि लोगों से मिलने के लिए वो क्यों नहीं गए। दिल्ली हिंसा के दौरान पुलिस प्रशासन से लेकर गृहमंत्री तक चुप रहे। दिल्ली के सीएम ने कर्फ्यू लगाने के लिए कहा तब भी वो चुपचाप बैठे रहे।

उन्होंने कहा कि दिल्ली हिंसा एक साजिश के तहत हुई है। उनके सांसद ने दिल्ली चुनाव के दौरान बयान भी दिया था कि अगर बीजेपी को वोट नहीं दिया तो घर में घुसकर बहू-बेटियों का रेप किया जाएगा। उन्होंने अमित शाह की तरफ इशारा करते हुए कहा कि आपके लोग ही दिल्ली हिंसा में शामिल थे। आप मुझे बताएं कि वो 300 लोग कौन थे जो यूपी से आए थे।

अमित शाह ने दिया बयान

अमित शाह ने कहा कि दिल्ली हिंसा में जिम्मेदार लोग किसी भी पार्टी के हों, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि अभी तक 700 से ज्यादा एफआईआर दर्ज हुई है। वहीं 2600 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है। अभी तक 1922 चेहरों की पहचान हो चुकी है। जिनमें से 336 लोग यूपी से आए थे। हमारे पास इसका प्रमाण है।

आधार का नहीं हो रहा इस्तेमाल

अमित शाह ने कहा कि पहचान के लिए आधार का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। पहचान के लिए वोटर आईडी और ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल किया जा रहा है। किसी की निजता का उल्लंघन नहीं किया जा रहा है। लेकिन दिल्ली हिंसा में बहुत सारे निर्दोषों की जान गई है। जिसके लिए पुलिस को अधिकार होना चाहिए कि वो जांच के लिए हर तरीके का इस्तेमाल करें। जिससे जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़ा जा सके।


Next Story