Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केंद्रीय एजेंसियां बार-बार मुंबई में प्रवेश कर राज्य पुलिस का मनोबल गिराती हैं: संजय राउत

मेरा मानना है कि सचिन वेाज़ एक बहुत ही ईमानदार और सक्षम अधिकारी हैं। उन्हें जिलेटिन की छड़ें पाए जाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। एक संदिग्ध मौत भी हुई। मामले की जांच करना मुंबई पुलिस की जिम्मेदारी है। किसी केंद्रीय टीम की जरूरत नहीं थी।

केंद्रीय एजेंसियां बार-बार मुंबई में प्रवेश कर राज्य पुलिस का मनोबल गिराती हैं: संजय राउत
X

संजय राउत, फोटो एएनआई

दक्षिण मुंबई में मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर एसयूवी कार में मिले विस्फोटक मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा मुंबई पुलिस के अधिकारी सचिन वाजे को गिरफ्तार किया है। सचिन वाजे की गिरफ्तारी के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत का बड़ा बयान सामने आया है।

शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हम एनआईए का सम्मान करते हैं लेकिन हमारी पुलिस ने भी ऐसा किया है। मुंबई पुलिस और एटीएस अच्छी तरह से सम्मानित हैं, लेकिन केंद्रीय एजेंसियां बार-बार मुंबई में प्रवेश करती हैं और मुंबई पुलिस का मनोबल गिराती हैं- यह राज्य में अस्थिरता पैदा करती है और मुंबई पुलिस और प्रशासन पर दबाव बनाती है।

आगे कहा कि मेरा मानना है कि सचिन वेाज़ एक बहुत ही ईमानदार और सक्षम अधिकारी हैं। उन्हें जिलेटिन की छड़ें पाए जाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। एक संदिग्ध मौत भी हुई। मामले की जांच करना मुंबई पुलिस की जिम्मेदारी है। किसी केंद्रीय टीम की जरूरत नहीं थी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, संजय राउत ने यह भी कहा कि एनआईए की जांच से संबंधित जानकारी पहले ही पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस तक पहुंचती रही। यह राज्य सरकार के लिए अच्छा संकेत नहीं है।

इनआईए को इस मामले की जांच महाराष्ट्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए दी गई है। एनआईए का उपयोग महाराष्ट्र सरकार पर दबाव बनाने के लिए किया जा रहा है। देवेंद्र फडणवीस को एनआईए की जांच की जानकारी मिलती रही। बतौर नेता विपक्ष डेढ़ साल बाद उनका खोया हुआ आत्म विश्वास लौटा है।

Next Story