Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सचिन पायलट को कांग्रेस ने उप मुख्यमंत्री के पद से हटाया, इन मंत्रियों पर भी की कार्रवाई

कांग्रेस ने कार्रवाई करते हुए सचिन पायलट को उप मुख्यमंत्री के पद से हटा दिया है। सचिन विश्वेंद्र और रमेश मीणा को मंत्रियों के पद से हटाया।

सचिन पायलट को कांग्रेस ने उप मुख्यमंत्री के पद से हटाया,  इन मंत्रियों पर भी की कार्रवाई
X

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार से संकट टल गया है। सीएम अशोक गहलोत के समर्थन में विधायकों ने प्रस्ताव पास कर दिया है। तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने दूसरी बैठक में सचिन पायलट को बुलाया था। लेकिन वह नहीं पहुंचे। जिसके बाद कांग्रेस ने कार्रवाई करते हुए उन्हें उप मुख्यमंत्री के पद से हटा दिया है। सचिन विश्वेंद्र और रमेश मीणा को मंत्रियों के पद से हटाया।

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने जानकारी देते हुए बताया कि बीजेपी ने एक षड्यंत्र के तहत राजस्थान सरकार को गिराने की कोशिश की। बीजेपी की साजिश की वजह से कांग्रेस की सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की गई। लेकिन पार्टी और निर्दलीय विधायकों को खरीदने में बीजेपी नाकामयाब रही।

वहीं दूसरी तरफ उन्होंने कहा कि पार्टी से बढ़कर कोई नहीं है। इसलिए पार्टी सचिन पर कार्रवाई करते हुए उन्हें राजस्थान में डिप्टी सीएम के पद से हटा दिया गया है। पिछले 72 घंटे से कांग्रेस आलाकमान ने सचिन पायलट और अन्य नेताओं से संपर्क करने की कोशिश की। कांग्रेस की ओर से लगातार सचिन पायलट को मनाने की कोशिश की गई।

जानकारी के लिए बता दें कि जल्द ही अशोक गहलोत अपनी सरकार में मंत्रिमंडल में बदलाव कर सकते हैं। अशोक गहलोत राजभवन के लिए रवाना हो गए हैं। जहां वह राज्यपाल से मुलाकात कर अपने नए मंत्रिमंडल पेश करेंगी और इस दौरान वह अपने मंत्रिमंडल में बदलाव के लिए भी उन से चर्चा करेंगे। जानकारी के लिए बता दें कि बीते 4 दिनों से राजस्थान में कांग्रेस सरकार पर राजनीतिक संकट चल रहा था। जिस पर कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों ने मोहर लगाते हुए।

सीएम अशोक गहलोत के समर्थन में प्रस्ताव को पास कर दिया है। तो वही सचिन पायलट प्रदेश अध्यक्ष पद समेत अन्य मांगों को लेकर डटे हुए थे। जिसको लेकर वह बागी तेवर दिखा रहे थे। जल्द ही सचिन पायलट राजस्थान में अपनी पार्टी का गठन भी कर सकते हैं।

सचिन पायलट और उनके साथ गए विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए विधायक दल की बैठक में प्रस्ताव पारित कर दिया गया है।

Next Story