Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Republic Day Shayari: 26 जनवरी पर दोस्तों को शेयर करें गणतंत्र दिवस शायरी का बेहतरीन कलेक्शन

गणतंत्र दिवस 2021 (Republic Day 2021) / 26 जनवरी 2021 में भारत में 72वां गणतंत्र दिवस (72th Republic Day) मनाया जाएगा। हर साल पूरे देश (India) में गणतंत्र दिवस 26 जनवरी (26 January) को बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

Republic Day Shayari: 26 जनवरी पर दोस्तों को शेयर करें गणतंत्र दिवस शायरी का बेहतरीन कलेक्शन
X

26 जनवरी पर शायरी

Republic Day Shayari (26 जनवरी पर शायरी) : गणतंत्र दिवस 2021 (Republic Day 2021) / 26 जनवरी 2021 में भारत में 72वां गणतंत्र दिवस (72th Republic Day) मनाया जाएगा। हर साल पूरे देश (India) में गणतंत्र दिवस 26 जनवरी (26 January) को बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है। क्योंकि 26 जनवरी 1950 (26 January 1950) को देश का संविधान (Constitution Of India) लागू हुआ था। हमारे देश (भारत) का संविधान दुनिया के गणतांत्रिक देश (Republican Country) का सबसे लंबा लिखित संविधान है। 26 जनवरी के दिन देश के सभी स्कूलों में गणतंत्र दिवस बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। ऐसे में लोगों ने अभी से अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को गणतंत्र दिवस 2021 (Republic Day 2021) की शुभकामनाएं देने के लिए गूगल (Google) पर गणतंत्र दिवस पर शायरी (Gantantra Diwas Par Shayar) सर्च करना शुरू कर दिया है। इसलिए हम आपके के लिए गणतंत्र दिवस शायरी का बेहतरीन कलेक्शन लेकर आये हैं। जिन्हें आप सोशल मीडिया के माध्यम से अपने दोस्तों, रिश्तेदारों एवं अन्य को शेयर कर 26 जनवरी 2021 की शुभकामनाएं दे सकते हैं।

Republic Day Shayari/ 26 जनवरी पर शायरी/ गणतंत्र दिवस पर शायरी

1

ऐ मेरे देश तू यूँ ही आजाद रहे,

तेरा ये अधिकार रहे,

तेरी इस आजादी पर,

मेरे जैसे लाखों जान कुर्बान रहे।।


2

कांटो के बीच फूल खिलाएं,

धरती को हम स्वर्ग बनाएं,

आओ सबको गले लगाएं,

मिल कर गणतंत्र दिवस मनाएं।।


3

वतन हमारी शान है,

वतन हमारा मान है,

हम उस देश के वासी है,

जिसका नाम हिंदुस्तान है।।


4

तिरंगा लहराएगा अब नीले आसमान पर,

देश का नाम होगा सबकी जुबान पर,

आँख जो उठाएगा कोई हमारे हिंदुस्तान पर,

ख़त्म कर देंगे उसको या खेलेंगे अपनी जान पर।।


5

देश की आजादी से बड़ी कोई ख्वाहिश नहीं है,

देश के लिए जिंदा रहूं खुद से जंग यही है,

तिरंगा सबसे ऊंचा रहे इस जहान में हमारा,

मेरी पहली और आखिरी ख्वाहिश यही है।।


नोट:- ये शायरी विभिन्न बेवसाइट्स से ली गई हैं..

Next Story