Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Republic Day 2020: 389 लोगों की मदद से बना था भारत का संविधान

Republic Day 2020:भारत का संविधान ना सिर्फ भारत का सबसे लंबा लिखित संविधान है बल्कि इसके निर्माताओं ने दुनिया के कई देशों के संविधान की अच्छी बातों को इसके अंदर शामिल किया है। जिससे भारत एक लोकतांत्रिक गणराज्य के रूप में मजबूत बन सके। इसे बनाने में कुल 389 लोगों ने मदद की थी।

Republic Day 2020: 389 लोगों की मदद से बना था भारत का संविधानभारत का संविधान(फाइल फोटो)

Republic Day 2020: 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान लागू हुआ था। तभी से इसे हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रुप में मनाया जाता है। भारत का संविधान दुनिया का सबसे लंबा संविधान है। इसे बनाने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय का लगा था। डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने भारत के संविधान को बनाने में अहम भूमिका निभाई थी। इस वजह से उन्हें भारत संविधान का निर्माता भी कहा जाता है।

भारत का संविधान ना सिर्फ भारत का सबसे लंबा लिखित संविधान है बल्कि इसके निर्माताओं ने दुनिया के कई देशों के संविधान की अच्छी बातों को इसके अंदर शामिल किया है। जिससे भारत एक लोकतांत्रिक गणराज्य के रूप में मजबूत बन सके। संविधान सभा में कुल 389 सदस्य थे। जिसमें ब्रिटिश प्रांतों के 292 प्रतिनिधी, 4 चीफ कमिश्नर क्षेत्रों के प्रतिनिधि और 93 देशी रियासतों के प्रतिनिधि थे.

साल 1946 में 389 सदस्यों में से प्रांतों के लिए निर्धारित 296 सदस्यों के लिय संविधान सभा चुनाव हुए थे। जिसमें कांग्रेस को 208, मुस्लिम लीग को 73 स्थान और 15 अन्य दलों के उम्‍मीदवार निर्वाचित हुए थे।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story
Top