Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Republic Day 2020 : 26 जनवरी को क्यों नहीं मनाया जाता 'संविधान दिवस', जानें क्या है पीछे की वजह

Republic Day 2020 : इस साल भारत अपना 71वां गणतंत्र दिवस मनाएगा। क्योंकि 26 जनवरी को ही भारत का संविधान (Constitution of India) लागू हुआ था।

Republic Day 2020 : 26 जनवरी को क्यों नहीं मनाया जातागणतंत्र दिवस 2020

Republic Day 2020 (गणतंत्र दिवस 2020) : भारत में हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा। इस साल भारत अपना 71वां गणतंत्र दिवस मनाएगा। क्योंकि 26 जनवरी को ही भारत का संविधान (Constitution of India) लागू हुआ था। देश में संविधान लागू होने के बाद भारत एक गणतंत्रिक देश बन गया। लेकिन कुछ लोग आज भी इस बात से अनजान हैं कि भारत का संविधान लागू तो 26 जनवरी को हुआ था पर संविधान दिवस (Constitution Day) 26 जनवरी को क्यों नहीं मनाया जाता है। तो चलिए जानें हैं..

26 जनवरी को क्यों नहीं मनाया जाता 'संविधान दिवस'

26 जनवरी को संविधान दिवस क्यों नहीं मनाया जाता इसके पीछे एक बड़ी वजह है। 26 नवंबर 1949 को भारतीय संविधान सभा की तरफ से इसे अपनाया गया था। देश में संविधान को 26 नवंबर 1950 को लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया।

यही वजह है कि 'संविधान दिवस' हर साल 26 नवंबर को मनाया जाता है। भारत की आजादी के बाद 29 अगस्त 1947 को भारत के संविधान का मसौदा तैयार करने वाली समिति का गठन किया गया था। इस समिति का अध्यक्ष के तौर पर डॉ भीमराव आंबेडकर को बनाया गया था।

भारत का संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान

बता दें कि डॉ. भीमराव आंबेडकर को भारत के संविधान निर्माता के रूप में पहचाना जाता है। भारत का संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। इसमें किसी भी तरह की टाइपिंग या प्रिंट का इस्तेमाल नहीं किया गया था।

संविधान को तैयार करने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था। भारत के संविधान में 448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां और 94 संशोधन शामिल हैं। यह हस्तलिखित संविधान है जिसमें 48 आर्टिकल हैं।

Next Story
Top