Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Republic Day 2020: जम्मू-कश्मीर ने केन्द्र शासित प्रदेश के रुप में मनाया अपना पहला गणतंत्र दिवस, 'बैक टू विलेज' नाम से निकाली झांकी

'बैक टू विलेज' नाम का ये प्रोग्राम जम्मू-कश्मीर प्रशासन के द्वारा पिछले साल शुरु किया गया था जिसे आतंकवाद से पीड़ित इलाकों से बड़े पैमाने पर प्रतिक्रियाएं मिली।

Republic Day 2020: जम्मू-कश्मीर ने केन्द्र शासित प्रदेश के रुप में मनाया अपना पहला गणतंत्र दिवस,जम्मू-कश्मीर 'बैक टू विलेज' झांकी

Republic Day 2020: जम्मू-कश्मीर ने केन्द्र शासित प्रदेश के रुप में अपना पहला गणतंत्र दिवस मनाया और गर्व से गणतंत्र दिवस 2020 के परेड में हिस्सा लिया। 'बैक टू विलेज' थीम पर एक झांकी निकालकर यहां के लोगों ने अपने क्षेत्र के बहुमूल्य कल्चर लाईफ और परम्परा का प्रदर्शन किया।

एक तरफ जहां सामने से कश्मीरी शॉल बुनने वाले एक कारीगर को दिखाया गया तो वहीं बीच में पारंपरिक मिट्टी के बर्तन बनाने वाले आर्टिस्ट को दर्शाया गया। पीछे के हिस्से में एक ऐसे आर्टिस्ट को दिखाया गया जो पारंपरिक बशोली स्टाईल में पेंटिंग बना रहा था।



जहां एक तरफ ने कुछ आर्टिस्ट को फोल्क म्यूजिक और डांस करते हुए दिखाया तो दूसरी तरफ ने हरे भरे लैंडस्केप के बीच से अपने दैनिक व्यवसाय के लिए जाते हुए लोगों को दिखाया। झांकी में एक विशिष्ट कश्मीरी लकड़ी का घर और एक धाराप्रवाह नदी के उपर एक लकड़ी के ब्रिज को दिखाया गया।

'बैक टू विलेज' नाम का ये प्रोग्राम जम्मू-कश्मीर प्रशासन के द्वारा पिछले साल शुरु किया गया था, जिसे बड़े पैमाने पर, खासकर आतंकवाद से पीड़ित इलाकों से सबसे ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिली।

विकास में प्राप्त और प्राप्त करने योग्य लक्ष्यों के बीच एक ब्रिज का निर्माण इस प्रोग्राम का लक्ष्य है। इतना ही नहीं, सरकार को गांवों और दुर्गम क्षेत्रों के हर दरवाजे पर ले जाना, और विश्वास योग्य और आनुभविक फीडबैक लेना भी इसका लक्ष्य है।



बता दें कि केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया है।

Next Story
Top