Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
toggle-bar

राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर बोले राहुल गांधी- मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप

आज अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं। वे हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं।

राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर बोले राहुल गांधी- मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप
X
राहुल गांधी का फाइल फोटो।

आज अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं। वे हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं। भगवान श्रीरामचंद्रजी मर्यादाओं के ठोस प्रतिक थे।

उन्होंने राजकाज के समय में सीता जी का दुष्प्रचार के कारण परित्याग कर दिया थ। फिर भी उन्होंने अपना जीवन सन्यासमय जीवन बना लिया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि राम प्रेम हैं। वे कभी घृणा में प्रकट नहीं हो सकते । जैसे कि प्रभु ने शबरी के जूठे फल खाए।

श्रीराम जी किसी भी व्यकित से घृणा नहीं करते थे। उन्होंने कहा राम करुणा हैं। वे कभी क्रूरता में प्रकट नहीं हो सकते हैं। राम न्याय हैं। वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकते। यह राहुल गांधी ने श्री रामचंद्र जी के बारे में राम मंदिर के शिलान्यास के मौके पर ट्वीट करके जानकारी दी।


और पढ़ें
Next Story