Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Pulwama Attack: उमेश गोपीनाथ जाधव की 61 हजार KM की तीर्थयात्रा हुई पूरी, पुलवामा पहुंचाई 40 शहीदों के घरों की मिट्टी

Pulwama Attack: मुझे गर्व है कि मैंने पुलवामा शहीदों के सभी परिवारों से मुलाकात की, और उनका आशीर्वाद लिया। माता-पिता ने अपने बेटे को खो दिया, पत्नियों ने अपने पति को खो दिया, बच्चों ने अपने पिता को खो दिया, दोस्तों ने अपने दोस्तों को खो दिया।

Pulwama Attack: उमेश गोपीनाथ जाधव की 61 हजार KM की तीर्थयात्रा हुई पूरी, पुलवामा पहुंचाई 40 शहीदों के घरों की मिट्टीउमेश गोपीनाथ जाधव

Pulwama Attack: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले का आज पूरा एक साल हो गया है। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों की शहादत हो गई थी। शहीदों की याद में लेथपुरा कैंप में स्मारक बनाया गया है। जहां पर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। वहीं महाराष्ट्र के उमेश गोपीनाथ जाधव ने हर शहीद के घर जाकर वहां की मिट्टी इकट्ठा कर पुलवामा पहुंचाई है। मिट्टी लेथपुरा कैंप स्मारक में रखी गई।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक महाराष्ट्र के उमेश गोपीनाथ जाधव आज पुलवामा हमले के एक वर्ष के अवसर पर कश्मीर के लेथपुरा में सीआरपीएफ परिसर में पुष्पांजलि समारोह में विशेष अतिथि हैं। हमले में जान गंवाने वाले 40 जवानों के परिवारों से मिलने के लिए उन्होंने भारत भर में 61000 किलोमीटर लंबी यात्रा की है।

उमेश गोपीनाथ जाधव ने शहीदों और उनके श्मशान घाटों से मिट्टी इकट्ठा की

उन्होंने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि मुझे गर्व है कि मैंने पुलवामा शहीदों के सभी परिवारों से मुलाकात की, और उनका आशीर्वाद लिया। माता-पिता ने अपने बेटे को खो दिया, पत्नियों ने अपने पति को खो दिया, बच्चों ने अपने पिता को खो दिया, दोस्तों ने अपने दोस्तों को खो दिया। मैंने उनके घरों और उनके श्मशान घाटों से मिट्टी इकट्ठा की।

एक हफ्ते पहले यात्रा हुई पूरी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उमेश गोपीनाथ जाधव की 61 किलोमीटर की यात्रा एक हफ्ते पहले पूरी हुई थी। जाधव ने एक अंग्रजी अखबार के पत्रकार से बातचीत के दौरान कहा था कि उन्होंने हर शहीद जवान के घर के बाहर से मिट्टी इकट्ठा की है। इस मिट्टी से भरे कलश को लेकर वह पुलवामा लेकर जा रहे हैं। वे शहीदों की याद को जीवित रखने के लिए श्रीनगर में सीआरपीएफ को ये मिट्टी से भरा कलश देंगे।

Next Story
Top