Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Power Crisis: देश में कोयले की कमी से 11 राज्यों में बिजली का संकट गहराया, केंद्र सरकार ने दिए आदेश

केंद्र विद्युत मंत्रालय ने एनटीपीसी और डीवीसी को संबंधित पीपीए के तहत दिल्ली डिस्कॉम को उपलब्धता के आधार पर आपूर्ति करने के निर्देश जारी किए हैं। पिछले 10 दिनों में दिल्ली डिस्कॉम्स को दी गई घोषित क्षमता (डीसी) को ध्यान में रखते हुए, बिजली मंत्रालय ने एनटीपीसी और डीवीसी को निर्देश जारी किए हैं।

Delhi Power Crisis: दिल्ली में त्योहारों पर नहीं होगी बिजली की कमी, विद्युत मंत्रालय ने दी जानकारी
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

Power Crisis देश के कई राज्यों में कोयले की कमी (Lack Of Coal) के चलते के बिजली संकट गहराता जा रहा है। इन राज्यों के पास कोयले भंडार खत्म होने को है। वहीं शहरों में थर्मल पॉवर प्लांट (Thermal Power Plant) कोयला की कमी से बंद हो रहे है। उन्हें आपूर्ति सुनिश्चित करना बड़ी चुनौती है। राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पीएम मोदी (PM Modi) को पत्र लिखकर इस संबंध में दखल देने और तुरंत कोयला आपूर्ति को सुनिश्चित कराने की अपील की है।

सीएम भूपेंंद्र बघेल ने केंद्र पर साधा निशाना

उधर, केंद्र सरकार और ऊर्जा मंत्री ने देश में कोयले की कमी नहीं होने का दावा किया है। केंद्र सरकार के इस दावे पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र पर तीखा हमला बोला है।भूपेश बघेल ने सवाल किया कि अगर देश में कोयला की पर्याप्त मात्रा है तो देश भर में बिजली संयंत्र क्यों बंद हो रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा "केंद्र का दावा है कि कोयले की कोई कमी नहीं है, लेकिन बिजली संयंत्र बंद हो रहे हैं। यह झूठे दावे क्यों किए जा रहे हैं, कोयला आयात बंद होने से बिजली आपूर्ति प्रभावित हो रही है। आखिर केंद्र सरकार इस पर क्या सोच रही है।

केंद्र ने एनटीपीसी को दिए ये आदेश

केंद्र विद्युत मंत्रालय ने एनटीपीसी और डीवीसी को संबंधित पीपीए के तहत दिल्ली डिस्कॉम को उपलब्धता के आधार पर आपूर्ति करने के निर्देश जारी किए हैं। पिछले 10 दिनों में दिल्ली डिस्कॉम्स को दी गई घोषित क्षमता (डीसी) को ध्यान में रखते हुए, बिजली मंत्रालय ने एनटीपीसी और डीवीसी को निर्देश जारी किए हैं ताकि दिल्ली को बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके। केंद्र के अस आदेश से दिल्ली की वितरण कंपनियों को उनकी मांग और आवश्यकता के अनुसार बिजली बिजली मिलेगी।

Next Story