Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

OLX पर पीएमओ ऑफिस बिक्री के विज्ञापन को देखते ही मचा हड़कंप, 4 युवकों ने इतनी तय कर दी थी कीमत

यूपी में आम चीजों को तो छोड़ ही दें, कुछ खास संपत्तियां भी महफूज नहीं हैं। वाराणसी स्थित पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यालय को ओएलएक्स (OLX) के जरिये बदमाश बचने का प्रयास कर रहे थे। जिनको यूपी पुलिस ने धर दबोचा है।

police arrested four crooks for attempting to sell pm narendra modi office
X

पीएम नरेंद्र मोदी (वाराणसी कार्यालय)

यूपी में राम राज्य पर एक फिर सवाल उठ गये हैं। इस बार कुछ शराती तत्वों की हरकत को लेकर प्रदेश का राम राज्य चर्चाओं में है। पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हाल में ही नया संसदीय ऑफिस बनाया गया। जो एक बार फिर से सुर्खियों में आ गया है। जो वाराणसी की गुरुधाम कॉलोनी में स्थित है।

जानकारी के मुताबिक वाराणसी में स्थित पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यालय को 7.30 करोड़ रुपये में कुछ शरारती तत्वों ने बेचने का प्रयास किया है। मामला सामने आने पर पुलिस ने चार लोगों को दबोच लिया है। पीएम मोदी के कार्यालय को किसी शरारती तत्त्व ने बिक्री के लिए ऑनलाइन खरीदो बेचो साइट ओएलएक्स (OLX) पर बिक्री के लिए डाल दिया। जसके बाद चर्चायें तेज हो गई कि आखिर वाराणसी स्थित पीएम का कार्यालय किस वजह से बेचा जा रहा है। शरारती तत्त्वों ने पीएम मोदी के कार्यालय कीमत करीब साढ़े सात करोड़ लगाई। बताया जा रहा है कि ओएलएक्स साइड पर पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय कार्यालय की बिक्री का विज्ञापन लक्ष्मीकांत ओझा नाम के यूजर की आईडी से जारी किया गया।

घटना को लेकर वाराणसी के एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि थाना भेलूपुर स्थित जवाहर नगर कॉलोनी में प्रधानमंत्री कार्यालय की फोटो खींचकर ओएलएक्स पर डाली गई थी। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि ओएलएक्‍स पर दिए गए कार्यालय बेचने के विज्ञापन को तुरंत हटा दिया गया है। साथ ही पुलिस इस मामले की गहराई से जांच कर रही है।

एसएसपी के अनुसार मामले के संबंध में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। साथ ही गिरफ्तार चार आरोपियों से हिरासत में पूछताछ की जा रही है। पुलिस के अनुसार जिस शख्स ने पीएम मोदी के ऑफिस की तस्वीर खींचकर ओएलएक्स पर डाली थी। वह अरोपी भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

Next Story