Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएम मोदी बोले- सरकार का व्यापार में रहने का कोई काम नहीं

सरकार का ये दायित्व है कि वो देश के enterprises को, Businesses को पूरा समर्थन दे, लेकिन सरकार खुद enterprises चलाए, उसकी मालिक बनी रहे, ये आवश्यक नहीं। इसलिए मैं कहता हूं- Government has no business to be in business।

पीएम मोदी बोले- सरकार का व्यापार में रहने का कोई काम नहीं
X

पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वेबिनार में निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग के लिए बजट में घोषणाओं पर बोलते हुए कहा कि सरकार का व्यापार में रहने का कोई काम नहीं है। सरकार का ध्यान लोगों के कल्याण और विकास से जुड़ी परियोजनाओं में ही रहना चाहिए।

इस बजट ने भारत को फिर से High Growth Trajectory पर ले जाने के लिए स्पष्ट रोडमैप सामने रखा है। बजट में भारत के विकास में प्राइवेट सेक्टर की मज़बूत पार्टनरशिप पर भी फोकस किया गया है।

इस बार बजट से पहले आपमें से अनेक साथियों से विस्तार से बात हुई थी। इस बजट ने भारत को फिर से हाई ग्रोथ ट्रेजेक्ट्री पर ले जाने के लिए स्पष्ट रोड मैप सामने रखा है। बजट में भारत के विकास में प्राइवेट सेक्टर के मजबूत योगदान पर भी फोकस है।

सरकार का ये दायित्व है कि वो देश के enterprises को, Businesses को पूरा समर्थन दे, लेकिन सरकार खुद enterprises चलाए, उसकी मालिक बनी रहे, ये आवश्यक नहीं। इसलिए मैं कहता हूं- Government has no business to be in business।

जब देश में पब्लिक सेक्टर इंटरप्राइज शुरू किए गए थें तब समय अलग था और देश की जरूरतें भी अलग थी। आज जब हम ये Reforms कर रहे हैं तो हमारा सबसे बड़ा लक्ष्य यही है कि जनता के पैसे का सही उपयोग हो।

हमारी सरकार का प्रयास, लोगों के जीवन स्तर को सुधारने के साथ ही, लोगों के जीवन में सरकार के बेवजह के दखल को भी कम करना है। यानि जीवन में न सरकार का अभाव हो, न सरकार का प्रभाव हो।

सरकार जिस मंत्र को लेकर आगे बढ़ रही है, वो है Monetise और Modernise। जब सरकार Monetise करती है तो उस स्थान को देश का प्राइवेट सेक्टर बढ़ता है। प्राइवेट सेक्टर अपने साथ निवेश भी लाता है और global best practices भी लाता है।

आज जब हमारी सरकार पूरे कमिटमेंट के साथ इस दिशा में आगे बढ़ रही है तो इससे जुड़ी नीतियों का Implementation उतना ही अधिक है। पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए Competition सुनिश्चित करने के लिए हमारी प्रक्रियाएं सही रहीं, policy stable रहे ये बहुत आवश्यक है।

बीते वर्षों में हमारी सरकार ने भारत को बिजनेस के लिए एक अहम डेस्टिनेशन बनाने के लिए निरंतर रिफॉर्म्स किए हैं। आज भारत वन मार्केट-वन टैक्स सिस्टम से युक्त है। आज भारत में कंपनियों के लिए एंट्री और एग्जिट के लिए बेहतरीन माध्यम उपलब्ध हैं।

Next Story