Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सिलीगुड़ी में ममता सरकार पर गरजे पीएम मोदी, बोले- 10 साल के कुकर्मों से ये हिंसा अपकी रक्षा नहीं कर सकती

पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि बंगाल में दशकों से जिस तरह का राजनीतिक वातावरण बना दिया गया है, वो बदलने का समय आ गया है। अब तोलाबाज मुक्त बंगाल बनेगा।

सिलीगुड़ी में ममता सरकार पर गरजे पीएम मोदी, बोले- 10 साल के कुकर्मों से ये हिंसा अपकी रक्षा नहीं कर सकती
X

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के 5वें चरण के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने आज सिलीगुड़ी में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए टीएमसी पर हमला बोला है। साथ पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्य में चौथे चरण के मतदान के दौरान कूचबिहार में हुई हिंसा का भी जिक्र किया है। इस हिंसा में चार लोगों की जान चली गई है।

पीएम मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि नॉर्थ बंगाल, भारत मां के गले में ऐसी भव्य माला है जिसमें अलग-अलग भाषा, जाति, भिन्न-भिन्न समुदाय के लोग अलग-अलग फूलों में गुंथे हुए हैं। यहां एक भारत-श्रेष्ठ भारत की सुंदर तस्वीर दिखती है। पूरे उत्तर बंगाल ने मुझे बहुत स्नेह और आशीर्वाद दिया है! पूरे उत्तर बंगाल ने घोषणा की है कि टीएमसी सरकार जा रही है और भाजपा सरकार आ रही है।

इस बीच कूचबिहार में जो हुआ है, वो बहुत दुखद है। जिन लोगों की मृत्यु हुई है, मैं उनके निधन पर दुख जताता हूं। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं। बीजेपी के पक्ष में जनसमर्थन देख कर दीदी और उनके गुंडों की बौखलाहट बेकाबू होती जा रही है। अपनी कुर्सी जाते देख, दीदी इस स्तर पर उतर आई हैं। दीदी और टीएमसी की मनमानी बंगाल में नहीं चलने दी जाएगी। मेरा चुनाव आयोग से आग्रह है कि कूचबिहार में जो हुआ, उसके दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो।

पीएम नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि बंगाल में दशकों से जिस तरह का राजनीतिक वातावरण बना दिया गया है, वो बदलने का समय आ गया है। अब तोलाबाज मुक्त बंगाल बनेगा। अब सिंडिकेट मुक्त बंगाल बनेगा। अब कटमनी मुक्त बंगाल बनेगा। दीदी, ये हिंसा, लोगों को सुरक्षा बलों पर आक्रमण करने के उकसाने के तरीके, चुनाव प्रक्रिया में रोड़े अटकाने के तरीके आपको नहीं बचा पाएंगे। आपके 10 साल के कुकर्मों से ये हिंसा अपकी रक्षा नहीं कर सकती है।

यहां से निकली संतानों ने साहित्य से लेकर सेना तक, सभी को मजबूत किया है। आज उन्हीं की प्रेरणा से बंगाल ने आशोल पॉरिबोर्तोन का नारा बुलंद किया है। जिस बंगाल को डर के, भय के, अत्याचार के, अन्याय के बोझ तले दीदी और उनके दल ने दबा रखा था, आज वो कह रहा है- आशोल पॉरिबोर्तोन। मैंने सोशल मीडिया में एक वीडियो देखा। उसमें दीदी के करीबी, बंगाल के पर्यटन मंत्री और यहां पास के ही विधायक, लोगों को धमका रहे हैं, उन्होंने कहा कि अगर भाजपा को वोट दिया तो लोगों को उठाकर बाहर फेंक दिया जाएगा।

ये भाषा, ऐसी धमकी आपको मंजूर है? दीदी, ओ दीदी! बंगाल के लोग यहीं रहेंगे। अगर जाना ही है तो सरकार से आपको जाना होगा। दीदी आप बंगाल के लोगों की भाग्य विधाता नहीं हैं। बंगाल के लोग आपकी जागीर नहीं हैं। पीएम मोदी ने आगे कहा कि बंगाल के लोगों ने तय कर दिया है कि आपको जाना ही होगा। बंगाल की जनता आपको निकाल कर ही दम लेने वाली है। आप अकेली नहीं जाएंगी। आपके पूरे गिरोह को जनता हटाने वाली है।

एक video सामने आया है जिसमे दीदी की करीबी एक नेता ने अनुसूचित जाति के लोगो का बहुत बड़ा अपमान किया है। उन्होंने कहा कि बंगाल में जो अनुसूचित जाति है, Schedule Caste समुदाय है वो भिखारियों की तरह व्यवहार करती है। अपनी हार सामने देख, दीदी का गुस्सा मुझ पर बढ़ता जा रहा है। बंगाल के लोगों का मुझ पर स्नेह देख, दीदी बंगाल के लोगों से भी नाराज हैं। 10 साल तक गरीबों को सताने वाले गुंडों पर, हत्यारों पर, लुटेरे तोलाबाज़ों पर दीदी को गुस्सा नहीं आया। लेकिन दीदी उन सुरक्षाबलों पर गुस्सा कर रही हैं जो बंगाल के लोगों के अधिकार की रक्षा कर रहे हैं।

Next Story