Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएम मोदी आज दूसरे ग्लोबल कोविड वर्चुअल समिट में भाग लेंगे, जानें क्या होगी चर्चा

पीएम मोदी ने सितंबर 2021 में बिडेन द्वारा आयोजित पहले ग्लोबल कोविड वर्चुअल समिट में भी भाग लिया था।

पीएम मोदी आज दूसरे ग्लोबल कोविड वर्चुअल समिट में भाग लेंगे, जानें क्या होगी चर्चा
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm Modi) आज अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (US President Joe Biden) के निमंत्रण पर दूसरे ग्लोबल कोविड वर्चुअल समिट (2nd Global COVID Virtual Summit) में भाग लेंगे। इसकी जानकारी विदेश मंत्रालय (MEA) के द्वारा दी गई है। रिपोर्ट के अनुसार, सम्मेलन का उद्देश्य कोरोना वायरस महामारी की निरंतर चुनौतियों का समाधान करने और एक मजबूत वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा वास्तुकला का निर्माण करने के लिए नई कार्रवाइयों को बढ़ावा देना है। शाम 6.30 बजे से शाम 7.45 बजे तक सत्र का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

इससे पहले पीएम मोदी ने पिछले साल 22 सितंबर को जो बाइडेन द्वारा आयोजित पहले वैश्विक कोविड वर्चुअल शिखर सम्मेलन में भाग लिया था। विदेश मंत्रालय के अनुसार, प्रधानमंत्री शिखर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में 'महामारी को किस तरह से रोकना है और इसके लिए किस तरह है तैयारी की जानी हैं इस विषय पर अपनी राय देंगे। सम्मेलन का उद्देश्य कोरोना महामारी की निरंतर चुनौतियों का समाधान करने और मजबूत वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा वास्तुकला का निर्माण करने के लिए नई कार्रवाइयों को बढ़ावा देना है।

रिपोर्ट के मुताबिक, अन्य प्रतिभागी इस आयोजन के सह-मेजबान हैं। कैरिकॉम के अध्यक्ष के रूप में बेलीज के राज्य / सरकार के प्रमुख, अफ्रीकी संघ के अध्यक्ष के रूप में सेनेगल, G20 के अध्यक्ष के रूप में इंडोनेशिया और G7 के अध्यक्ष के रूप में जर्मनी। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव, विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस कार्यक्रम में भाग लेंगे।

पीएम मोदी ने सितंबर 2021 में बिडेन द्वारा आयोजित पहले ग्लोबल कोविड वर्चुअल समिट में भी भाग लिया था। विज्ञप्ति में कहा गया है कि भारत सुरक्षित और किफायती टीकों, और दवाओं की आपूर्ति, परीक्षण और उपचार के लिए कम लागत वाली स्वदेशी तकनीकों का विकास, जीनोमिक निगरानी और स्वास्थ्य देखभाल श्रमिकों के लिए क्षमता निर्माण द्वारा महामारी से निपटने के लिए चल रहे वैश्विक प्रयासों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसमें कहा गया है कि भारत डब्ल्यूएचओ के केंद्र में होने के साथ वैश्विक स्वास्थ्य सुरक्षा ढांचे को मजबूत करने और सुधारने के उद्देश्य से बहुपक्षीय मंचों में भी सक्रिय रूप से लगा हुआ है।

और पढ़ें
Next Story