Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कश्मीर पर PM मोदी ने ट्रंप के सामने की दो टूक बात तो इस कांग्रेसी नेता ने की जमकर तारीफ

फ्रांस के बिआरित्ज में हुए जी-7 शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच की मुलाकात काफी अहम रही। इस मुलाकात पर न सिर्फ भारत की नजर थी बल्कि पाकिस्तान भी नजर रख रहा था कि कश्मीर के मुद्दे पर राष्ट्रपति ट्रंप क्या टिप्पणी करते हैं। लेकिन पीएम मोदी ने दो टूक शब्दों में साफ कर दिया कि यह मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच है और तीसरे देश का दखल मंजूर नहीं है। पीएम मोदी के इस कदम की कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने भी तारीफ की है।

कश्मीर पर PM मोदी ने ट्रंप के सामने की दो टूक बात तो इस कांग्रेसी नेता ने की जमकर तारीफ

फ्रांस के बिआरित्ज में हुए जी-7 शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच की मुलाकात काफी अहम रही। इस मुलाकात पर न सिर्फ भारत की नजर थी बल्कि पाकिस्तान भी नजर रख रहा था कि कश्मीर के मुद्दे पर राष्ट्रपति ट्रंप क्या टिप्पणी करते हैं। लेकिन पीएम मोदी ने दो टूक शब्दों में साफ कर दिया कि यह मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच है और तीसरे देश का दखल मंजूर नहीं है। पीएम मोदी के इस कदम की कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने भी तारीफ की है।



कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि उन्हें यह जानकर खुशी हुई है कि पीएम मोदी ने जी-7 में साफ कर दिया है कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्वीपक्षीय मुद्दा है। सिंघवी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से लिखा कि मुझे यह जानकर खुशी हुई कि जी-7 में स्पष्ट कर दिया है कि कश्मीर का मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच सभी मुद्दे जिसमें कश्मीर भी शामिल है, द्विपक्षीय है और कुछ भ्रम के बावजूद आगे भी द्विपक्षीय भी रहेंगे, ऐसा जानकर अच्छा लगा। बधाई हो।

पीएम मोदी ने फ्रांस में कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच कई द्विपक्षीय मुद्दे हैं, इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद मैने उनसे कहा कि हमारे दोनों देशों को गरीबी, अशिक्षा और पिछड़ेपन के खिलाफ लड़ना है, इसलिए हम दोनों देशों को ही लोगों की बेहतरी के लिए काम करना चाहिए, मैने राष्ट्रपति ट्रंप को भी इससे अवगत कराया है और हम अपने द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा करते रहते हैं।



सिंघवी ने इससे पहले पीएम मोदी के समर्थन में बयान देते हुए कहा था कि मोदी को खलनाक की तरह पेश करना गलत है, सिर्फ इसलिए कि वह देश के प्रधानमंत्री हैं, बल्कि ऐसा करके एक तरह से विपक्ष उनकी मदद करता है।

बता दें कि इसी महीने पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया है। इसके बाद से कश्मीर में कर्फ्यू लगाया गया है। संचार के माध्यमों को कम किया गया है। वहीं पाकिस्तान की बौखलाहट भी सबके सामने है। इमरान खान कश्मीर के मुद्दे पर दुनिया के कई देशों के प्रमुखों से बातचीत की लेकिन किसी का भी उन्हें समर्थन नहीं मिल पाया।

Next Story
Share it
Top