Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

निजामुद्दीन मरकज से जुड़े लोगों की दोबारा होगी कोरोना वायरस जांच, ये है कारण

कोरोना वारस से लड़ने के लिए सरकार हर कदम फूंक फूंक कर रख रही है। आमजन को बचाने के लिए हर तरीके से कदम उठाए जा रहे हैं। सरकार ने निजामुद्दीन मरकज से जुड़े लोगों की दुबारा जाँच कराने के दिए आदेश।

डॉक्टर को कोरोना वायरस से बचाने के लिए आगे आया दोस्त, ये चीजें की गिफ्ट
X
कोरोना वायरस (फाइल फोटो)

कोरोना वारस से लड़ने के लिए सरकार हर कदम फूंक फूंक कर रख रही है। आमजन को बचाने के लिए हर तरीके से कदम उठाए जा रहे हैं। सरकार ने मार्च के दूसरे सप्ताह में निजामुद्दीन मरकज क्षेत्र में मिली लोकेशनों के आधार पर सम्बंधित व्यक्तियों के स्वास्थ्य जांच के आदेश दिए हैं। आदेश मिलने के बाद सभी थानों की पुलिस ने उनसे संपर्क साधना शुरू कर दिया है। इसके लिए हर थाना क्षेत्र स्तर पर टीमें गठित की गई हैं। जो स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर उनके स्वास्थ्य की जांच करेंगी।

14 दिन आइसोलेट रहने के दिए थे निर्देश

पुलिस ने इन लोगों की पहचान कर उन्हें 14 दिन तक आइसोलेट रहने की हिदायत दी थी। इसके अलावा उन्हें कहा गया था कि स्वास्थ्य सम्बंधित कोई भी लक्षण दिखने पर वह स्वास्थ्य विभाग से तत्काल संपर्क करें। पुलिस की जांच में पता चला कि इन लाेगों ने निजी वाहन, बस और ट्रेन से सफर किया था। उनके आसपास रहने वाले लोगाेें से भी उनकी दिनचर्या की वेरिफिकेशन करवाई जा रही हैै।

यह आ रही दिक्कत

पुलिस ने जो मोबाइल नम्बर रोहतक पुलिस को सौंपे हैं। उन पर संपर्क किया जा रहा हैै। लेकिन इन नम्बरों में एक तिहाई नम्बर ऐसे हैं, जो किसी एक व्यक्ति के नाम पर है और उसका प्रयोग उनके परिवार का ही अन्य सदस्य कर रहा है। इसके अलावा आधे से ज्यादा लोग निजामुद्दीन क्षेत्र के आसपास कामकाज करने वाले हैं। इनमें कई व्यवसायी तो कई पुलिस अधिकारी भी हैं। जो इस क्षेत्र में डयूटी करते हैैं।

दो अप्रैल को पुलिस ने की थी वेरिफिकेशन

खुफिया एजेंसियों से पुलिस को सूचना मिली थी कि रोेहतक के 58 से ज्यादा व्यक्ति निजामु्द्दीन क्षेत्र में मौजूद थे। इसके बाद रोहतक पुलिस ने उन लोगों का पता लगा कर वेरिफिकेशन करवाई थी। सम्बंधित थाना पुलिस ने इन लोगों से संपर्क कर पूछा था कि क्या उन्हें किसी तरह की बीमारी, जुखाम, खांसी के लक्षण हैं। किसी व्यक्ति ने स्वास्थ्य सम्बंधित दिक्कत नहीं बताई थी। इसके बाद रिपोर्ट सरकार को भेज दी गई थी। अब इस सूची में कई और लोगों के नाम जुड़ने लगे हैं। लेकिन अब दोबारा से इन सभी लोगों के स्वास्थ्य की जांच के आदेश दिए गए हैं।

घर से न निकलें आमजन

एसपी राहुल शर्मा ने आमजन से अपील की हैै। उन्होंने कहा है कोरोना को हराना है तो बेवजह घर से न निकलें। अति आवश्यक कार्य पर ही बाहर आएं। बाजार में एक दूसरे से दूरी बनाकर रखें। मास्क और सेेनिटाइजर का प्रयोग करें। यह सब कदम उठा कर ही हम कोराेना को हरा सकते हैं।

रोहतक एसपी राहुल शर्मा जिन लोगों की लाेकेशन दिल्ली निजामुद्दीन क्षेत्र की मिली थी। उनके स्वास्थ्य पर नजर रखी जा रही है। उन्हें घरोें में ही आइसोलेट किया गया था। अलग अलग टीमों की डयूटी लगाई गई हैं। उनके स्वास्थ्य की जांच करवाई जा रही हैं।

और पढ़ें
Next Story