Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Parliament: राज्यसभा के निलंबित सांसदों का धरना समाप्त, विपक्ष के साथ मानसून सत्र का करेंगे बहिष्कार

संसद के मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा से निलंबित सांसदों ने अपना धरना खत्म कर दिया है। वहीं निलंबित सांसदों ने चेतावनी दी है कि वो विपक्ष के साथ मानसून सत्र का बहिष्कार करेंगे।

Parliament: राज्यसभा के निलंबित सांसदों का धरना समाप्त, विपक्ष के साथ मानसून सत्र का करेंगे बहिष्कार
X

संसद के मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा से निलंबित सांसदों ने अपना धरना खत्म कर दिया है। वहीं निलंबित सांसदों ने चेतावनी दी है कि वो विपक्ष के साथ मानसून सत्र का बहिष्कार करेंगे। इससे पहले पूरी रात ये सभी सांसद धरने पर बैठे रहे थे। जिसके बाद सुबह-सुबह उपसभापति हरिवंश इन सभी के लिए चाय लेकर पहुंचे थे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, धरना खत्म करने के बाद सभी सांसदों ने कहा कि वो निलंबन निरस्त होने तक सत्र का बहिष्कार करते रहेंगे। राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि 8 सदस्यों का निलंबन रद्द होने तक विपक्ष सदन की कार्यवाही का बहिष्कार करेगा।

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद सैयद नासिर हुसैन ने कहा कि हम चाहते थे कि निलंबन केवल निरस्त न हो, लेकिन साथ ही हम चाहते थे कि कृषि बिल वापस लिया जाए और उचित मतदान हो। लेकिन उस तरह का कुछ भी नहीं हुआ। क्योंकि सभापति किसी की बात सुनने के लिए तैयार नहीं थे।

इसलिए सभी विपक्षी दलों ने शेष सत्र का बहिष्कार किया। उन्होंने उन सभी लोगों से अपील की, जो धरने पर बैठे थे। इसे खत्म करने और बाकी सत्र का बहिष्कार करने में शामिल हों। इस तरह हमने यह धरना समाप्त किया है। वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश के पत्र पर समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद राम गोपाल यादव ने कहा कि मैं संसद का एक वरिष्ठ सदस्य हूं, सदन में जो हुआ, उसके लिए माफी मांगी है, लेकिन मुझे कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। मुझे यह बहुत अपमानजनक लगा। मेरी पार्टी ने पूरे सत्र का बहिष्कार करने का फैसला किया है।

राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश 20 सितंबर को कृषि विधेयकों पर चर्चा के दौरान विपक्षी सांसदों द्वारा सदन में उनके साथ हुए व्यवहार के खिलाफ एक दिवसीय उपवास पर हैं। हरिवंश ने राज्यसभा के सभापति म वेंकैया नायडू को पत्र लिखा है।

Next Story