Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ISI ने भारत में हथियार और ड्रग्स भेजने के लिए ड्रोन केंद्र स्थापित किए, सेना अलर्ट पर

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) के दूसरी तरफ आईएसआई ने तस्करों और आतंकियों की मदद से ड्रोन केंद्रों को चालू कर दिया है।

ISI ने भारत में हथियार और ड्रग्स भेजने के लिए ड्रोन केंद्र स्थापित किए, सेना अलर्ट पर
X

पाकिस्तान (Pakistan) की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई- ISI) भारत में हथियारों और ड्रग्स की तस्करी के लिए ड्रोन सेंटर (Drone Center) तैयार कर रही है। पाकिस्तानी रेंजर्स (Pakistani Rangers) के साथ मिलकर देश की ताकतवर जासूसी एजेंसी (Powerful Detective Agency) ने अब तक ऐसे छह ड्रोन सेंटर स्थापित किए हैं। सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) के दूसरी तरफ आईएसआई ने तस्करों और आतंकियों की मदद से ड्रोन केंद्रों को चालू कर दिया है। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के सूत्रों ने कहा कि उन्हें खुफिया जानकारी मिली है कि फिरोजपुर और अमृतसर से अंतरराष्ट्रीय सीमा के पार कई पाकिस्तानी सीमा चौकियों पर ड्रोन गतिविधि बढ़ रही हैं।

सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान हथियारों, ड्रग्स और विस्फोटकों के लिए 'डमी ड्रोन' का इस्तेमाल कर रहा है। खेमकरण के पास सीमा पार से तस्कर पाक रेंजर्स की मदद से ड्रोन उड़ाते हैं। आतंकवादी और तस्कर भारतीय सुरक्षाबलों से बचने के लिए और पंजाब जैसे सीमावर्ती राज्यों में इन नकली ड्रोनों में विस्फोटक, हथियार और गोला-बारूद लोड कर रहे हैं। खबरों के अनुसार, वे अपने नापाक कार्यों के लिए तेजी से जीपीएस-कंट्रोल ड्रोन का इस्तेमाल कर रहे हैं।

दुश्मन के यूएवी को मार गिराने के लिए 'ड्रोन हंटिंग टीम' को तैनात

इस खतरे को देखते हुए सीमा सुरक्षाबल ने बाड़ के पाकिस्तानी पक्ष से ड्रोन गतिविधि को लेकर अलर्ट जारी किया है। यह पंजाब सीमा पर विशिष्ट संवेदनशील बिंदुओं पर ड्रोन रोधी प्रणाली भी स्थापित की जा रही है। दुश्मन के यूएवी को मार गिराने के लिए 'ड्रोन हंटिंग टीम' को तैनात किया गया है।

और पढ़ें
Next Story