Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

INX Media Case: पी. चिदंबरम के आवास पर CBI के बाद अब ED की टीम पहुंची, जानें क्या है मामला

दिल्ली हाईकोर्ट ने आईएनएस मीडिया मामले में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है। कोर्ट ने भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग मामलों में जमानत देने से मान कर दिया है।

INX Media Case: पी. चिदंबरम के आवास पर CBI के बाद अब ED की टीम पहुंची, जानें क्या है मामला

सीबीआई के अधिकारियों की एक टीम आज पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम के आवास पर पहुंची। इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने आईएएक्स मीडिया मामले में उनकी दोनों जमानत याचिका खारिज कर दी थी। ताजा जानकारी के मुताबिक सीबीआई की टीम चिदंबरम के आवास से वापस चली गई है और ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम पहुंच गई है।


मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी। जिसके बाद उनको तीन दिन की कोर्ट ने राहत देने से इनकार कर दिया। इस झटके के बाद चिदंबरम के वकील सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। यहां उन्होंने वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल से मुलाकात की।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पी चिदंबरम ने अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद कोर्ट से तीन दिनों का समय मांगा लेकिन कोर्ट ने मोहलत देने से मना कर दिया। वहीं दूसरी तरफ सीबीआई और ईडी चिदंबरम को गिरफ्तार करना चाहती है।

सुप्रीम कोर्ट पहुंचे चिदंबरम

अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद अब चिदंबरम सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। साल 2007 से यह मामला चल रहा है। जिसमें दिल्ली कोर्ट द्वारा कई बार उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगाई गई। मंगलवार को हुई सुनवाई के दौरान केंद्रीय जांच ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय ने कोर्ट से कहा कि पूछताछ के दौरान उनको हिरासत में लेना जरूरी है। कई सबूतों से पता चलता है कि रिश्वत लेने के मामले में उनकी भूमिका रही है।

विदेशी फंड मीडिया समूह से रिश्वत लेने का आरोप

बता दें कि ईडी और सीबीआई ने कहा कि वित्त मंत्री के रूप में चिदंबरम ने साल 2007 में 305 करोड़ रुपये के विदेशी फंड मीडिया समूह को देने के लिए कहा था। जानकारी के मुताबिक, साल 2017 में सीबीआई ने विदेशी फंड मीडिया समूह की मंजूरी में गड़बड़ी मिली। जिसके बाद मामला दर्ज किया गया।

इंद्राणी मुखर्जी की गवाही ने घेरा

इसके बाद ईडी ने 2018 में मनी लॉन्ड्रिंग के तहत मामला दर्ज किया। इस मामले में आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने कोर्ट में कहा कि उन्होंने कार्ति चिदंबरम को 10 लाख रुपये की घुस दी थी। जिसमें पिता पी चिदंबरम द्वारा मंजूरी की ऐवज में रिश्वत लेने का आरोप लगा है।

पी चिदंबरम और उनके बेटे पर आरोप

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चिदंबरम पर 3,500 करोड़ रुपये के एयरसेल-मैक्सिस डील और INX मीडिया मामले में 305 करोड़ रुपये लेने का केस चल रहा है। जिसकी जांच सीबीआई और ईडी कर रही है। इसमें चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम का भी नाम है।


Next Story
Share it
Top