Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Defamation Case : अजीत डोभाल के बेटे विवेक डोभाल के मानहानि मामले में सुनवाई की तारीख बढ़ी

कांग्रेस नेता जयराम रमेश और कारवां मैगज़ीन के ख़िलाफ़ उनके द्वारा दायर मानहानि मामले में NSA अजीत डोभाल के बेटे विवेक डोभाल की जिरह को दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में 29, 30, 31 जुलाई के लिए टाल दिया गया है। पहले यह 10,11,12 जुलाई के लिए निर्धारित था। मामले की सुनवाई मुख्य मेट्रोपॉलिटन जज समर विशाल कर रहे हैं।

अजीत डोभाल के बेटे विवेक डोभाल के मानहानि मामले में सुनवाई की तारिख बढ़ीNSA Ajit Doval son Vivek Doval defamation case date deferred Jairam Ramesh Caravan Magazine

कांग्रेस नेता जयराम रमेश और कारवां मैगज़ीन के ख़िलाफ़ उनके द्वारा दायर मानहानि मामले में NSA अजीत डोभाल के बेटे विवेक डोभाल की जिरह को दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में 29, 30, 31 जुलाई के लिए टाल दिया गया है। पहले यह 10,11,12 जुलाई के लिए निर्धारित था। मामले की सुनवाई मुख्य मेट्रोपॉलिटन जज समर विशाल कर रहे हैं।

मालूम हो कि कांरवा मैग्जीन में पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश का एक लेख छपा था जिसमें दावा किया गया था कि साल 2016 के नोटबंदी के कुछ दिनों बाद ही अजित डोभाल के बेटे विवेक डोभाल केमैन आइलैंड में हेज फंड की शुरूआत की थी। इसके बाद भारत के एफडीआई में लगातार वृद्धि हुई। लेख के अनुसार नोटबंदी के 13 दिनों के बाद विवेक डोभाल ने जीएनवाई एशिया नाम की एक फंड कंपनी खोले।

इसमें तीन लोगों ने निवेश किया था जिसमें विवेक भी शामिल हैं। इस कंपनी के एक निवेशक का नाम पनामा पेपर लीक में आ चुका है। वहीं कांग्रेस नेता जयराम रमेश का कहना है कि आरबीआई साल 2017 से लेकर 2018 तक के बीच में केमन आईलैंड कंपनी से आए 83 सौ करोड़ रूपयों का पूरा ब्यौरा सार्वजनिक करे। इसके साथ ही उन्होंने जांच की भी मांग की।

Share it
Top