Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

NSA अजीत डोभाल ने कहा: FATF से पाक पर है बहुत ज्यादा दबाव, आतंकवाद को ही बना गया राष्ट्रीय नीति

एनएसए डोभाल (NSA Ajit Doval) ने सुरक्षा एजेंसियों की चुनौतियों का जिक्र करते हुए कहा कि अगर कोई देश किसी अपराधी का समर्थन करता है तो यह और बड़ी चुनौती बन जाती है। कुछ राष्ट्रों को तो इसमें विशेषज्ञता हासिल है। हमारे मामले में पाकिस्तान (Nationalism) तो आतंकवाद (Terrorism) को राष्ट्रीय नीति (National Policy) ही बना चुका है। उन्होंने कहा कि कुछ देश आतंकवाद को बढ़ावा देने में लगे हुए हैं।

NSA अजीत डोभाल ने कहा: पाक पर FATF से बहुत ज्यादा दबाव, आतंकवाद को ही बना गया राष्ट्रीय नीतिNSA Ajit Doval Says Heavy Pressure On Pakistan From FATF

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल (Ajit Doval) ने आतंकवाद (Terrorism) को लेकर एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) को निशाने पर लिया। डोभाल ने पाकिस्तान को आतंकियों का समर्थक देश बताते हुए कहा कि इस्लामाबाद (Islamabad) को इसमें विशेषज्ञता हासिल है। डोभाल ने कहा कि आतंकवाद को समर्थन देना पाकिस्तान की राष्ट्रीय नीति बन गई है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान पर एफएटीएफ (FATF) का बहुत दबाव है। एनआईए (NIA) को सुझाव देते हुए उन्होंने कहा कि वह देश में आतंकवादी विचारधारा को खत्म करने का लक्ष्य बनाए। एनएसए एनआईए की एटीएस और स्पेशल टास्क फोर्स की राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे।

पाक पर एफएटीएफ से अभी सबसे ज्यादा दबाव

उन्होंने कहा कि हमें पता है कि आतंकवाद को मदद बाहर से मिलती है। यह कोई नया नहीं है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद पर जांच और समय रहते उसकी जानकारी के लिए सभी सुरक्षा एजेंसियों का आपस में बेहतर समन्वय (Co-ordination) होना जरूरी है। डोभाल ने कहा कि पाकिस्तान पर अभी जो सबसे बड़ा दबाव है, वह एफएटीएफ की तरफ से है। किसी और एक्शन की वजह से शायद ही ऐसा दबाव बन पाता।

आतंकियों की फंडिंग रोकने की जरूरत

डोभाल ने कहा कि आज कोई देश युद्ध नहीं चाहता क्योंकि कोई भी परिणाम को लेकर आश्वस्त नहीं हो सकता है। ऐसे में राज्य प्रायोजित आतंकवाद के जरिए दुश्मनों की नुकसान पहुंचाने की कोशिश होती है। सबको पता है पाकिस्तान आतंकवाद का समर्थन करता है। ऐसे में आतंक की फंडिंग को रोकने की जरूरत है।

पाकिस्तान की राष्ट्रीय नीति बन गई आतंकवाद

डोभाल ने सुरक्षा एजेंसियों की चुनौतियों का जिक्र करते हुए कहा कि अगर कोई देश किसी अपराधी का समर्थन करता है तो यह और बड़ी चुनौती बन जाती है। कुछ राष्ट्रों को तो इसमें विशेषज्ञता हासिल है। हमारे मामले में पाकिस्तान तो आतंकवाद को राष्ट्रीय नीति ही बना चुका है। उन्होंने कहा कि कुछ देश आतंकवाद को बढ़ावा देने में लगे हुए हैं।

Next Story
Share it
Top