Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Nirbhaya Case: पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए दोषियों के शव, मरने से पहले नहीं बता पाए आखिरी इच्छा

Nirbhaya Case: निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले के सभी चार दोषियों अक्षय ठाकुर, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और मुकेश सिंह को शुक्रवार सुबह साढ़े 5 बजे फांसी दे दी गई।

Nirbhaya Case: पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए दोषियों के शव, मरने से पहले नहीं बता पाए आखिरी इच्छा

Nirbhaya Case: निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले के सभी चार दोषियों अक्षय ठाकुर, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और मुकेश सिंह को शुक्रवार सुबह साढ़े 5 बजे फांसी दे दी गई। तीन न्यायाधीशों वाली सर्वोच्च न्यायालय की पीठ ने देर रात की सुनवाई में दोषियों के वकील एपी सिंह द्वारा उनकी फांसी पर रोक लगाने के बाद अंतिम याचिका को भी खारिज कर दिया था।

फांसी होने के बाद चारों दोषियों के शव को डीडीयू अस्पताल में पोस्ट मार्टम के लिए भेजा गया। दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में डॉ. बीएन मिश्रा की अगुवाई में 5 डॉक्टरों की टीम का एक पेनल इनका पोस्ट मार्टम करेगा। इसकी वीडियो रिकॉर्डिंग होगी।

बता दें कि निर्भया गैंगरेप और हत्या मामले में चार में से तीन मौत की सजा के बाद दिल्ली हाईकोर्ट ने गुरुवार की शाम दिल्ली हाई कोर्ट का रुख किया, जिसमें निचली अदालत के आदेश को चुनौती दी गई थी कि शुक्रवार की सुबह उन्हें फांसी की सजा पर रोक लगा दी जाए, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने आज भी मौत की याचिका को खारिज कर दिया। पंक्ति दोषियों और निष्पादन को स्थगित करने से इनकार कर दिया।

सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की एक बेंच जिसमें जस्टिस आर बानुमति, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एएस बोपन्ना शामिल थे, ने करीब 2:30 बजे इस मामले की सुनवाई शुरू की।

सुप्रीम कोर्ट की याचिका पर सुनवाई शुरू होने से पहले पीड़िता के माता-पिता ने विश्वास व्यक्त किया और कहा कि शीर्ष अदालत उनकी याचिका को खारिज कर देगी और चारों दोषियों को आज ही फांसी दी जाएगी। निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि उनका समय खत्म हो गया है और उन्हें फांसी दी जाएगी। वहीं डीजी तिहाड़ जेल ने बताया कि फांसी से पहले निर्भया के चारों दोषियों में किसी ने कोई आखिरी इच्छा जाहिर नहीं की। जबकि हर कैदी से इच्छा पूछी जाती है।

Next Story
Top