Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नए ट्रैफिक रूल: सरकारी बसों में भी चालक को पहननी होगी सीट बेल्ट नहीं तो कटेगा जुर्माना

देश में नए ट्रैफिक नियमों के लागू होने के बाद पुलिस लागातार लोगों के चालान काट रही है। इसमें प्राइवेट ही नहीं बल्कि सरकार वाहनों के चालकों के लिए भी नियमों का उल्लंघन करने पर नए निर्देश जारी हो चुके हैं। सरकारी बसों में ड्राइवर के सीट बेल्ट ना पहनने पर भी अब चालान कटेगा।

नए ट्रैफिक रूल: सरकारी बसों में भी चालक को पहननी होगी सीट बेल्ट नहीं तो कटेगा जुर्माना

देश में नए ट्रैफिक नियमों के लागू होने के बाद पुलिस लागातार लोगों के चालान काट रही है। इसमें प्राइवेट ही नहीं बल्कि सरकार वाहनों के चालकों के लिए भी नियमों का उल्लंघन करने पर नए निर्देश जारी हो चुके हैं। सरकारी बसों में ड्राइवर के सीट बेल्ट ना पहनने पर भी अब चालान कटेगा।

नए नियम के मुताबिक, हरियाणा में नियमों का सख्ती से पालन कराने के लिए रोडवेज डिपो के अधिकारियों के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है। यहां आम आदमी की तरह चालान की राशि दस गुणा बढ़ा दी गई है।

हरियाणा ट्रैफिक रूल

रोहतक एसपी ने सड़क पर लोगों को जागरुक करने के लिए अभियान चलाया है। जिसमें पुलिस कर्मचारी, रोडवेज चालक और सरकारी वाहन चलाने वाले सभी अधिकारी शामिल हैं। रोडवेज बसों के चालकों द्वारा बिना सीट बेल्ट के मिलते हैं तो उनका भी चालान कटेगा।

दिल्ली में बाइक पर बच्चा तीसरी सवारी

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली में एक ट्रिपल राइडिंग में बच्चों को लेकर एक मामला सामने आया है। लेकिन यहां जुर्माना या चालान काटने की बजाए फूल देकर पुलिस लोगों को समझा रही है। अगर मां बाप बच्चे को लेकर गोद में सवारी कर रहे हैं तो वो भी सावधान रहे। ऐसे में पुलिस बच्चे को भी तीसरी सवारी मानकर आपका चालना काट सकती है।

बता दें कि पुराने कानून में भी बच्चे को तीसरी सवारी माना जा था। 1 सितंबर से लागू नियम के मुताबिक, बाइक पर दो से ज्यादा सवारी या सामना को ओवरलोडिंग का चालान काटने का प्रावधान है। मोटर वाहन एक्ट में बाइक टू सीटर है।

यूपी में नया सर्कुर जारी

इसके अलावा उत्तर प्रदेश में अब सरकार सोच रही है कि लोगों के सभी चीजों पर चालान ना हो। शुक्रवार को यूपी के यातायात निदेशालय की तरफ से सर्कुलर जारी किया गया था। जिसकी वजह से वाहन चालकों को राहत मिल सकती है। आदेश के मुताबिक, ज्यादातर वाहनों को सिर्फ कागजात चेक करने के लिए ना रोका जाए। लेकिन वहीं नियमय तोड़ने वालों पर सख्त के साथ कागजात चेक किए जाए।

Next Story
Share it
Top