Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में नवजोत सिंह सिद्धू का प्रदर्शन, गवर्नर हाउस के बाहर धरने पर बैठे

लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत के बाद पंजाब कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू के नेतृत्व में चंडीगढ़ में लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में नवजोत सिंह सिद्धू का प्रदर्शन, गवर्नर हाउस के बाहर धरने पर बैठे
X

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri in Uttar Pradesh) में किसानों की मौत के बाद पंजाब कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Punjab Congress leader Navjot Singh Sidhu) के नेतृत्व में चंडीगढ़ (Chandigarh) में लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

सूत्रों ने बताया कि गवर्नर हाउस के बाद सिद्धू और उनके समर्थक धरने पर बैठ गए हैं। जबकि दूसरी तरफ पंजाब प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके नवजोत सिंह सिद्धू ने अब अपनी ही सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने सीएम चन्नी के नए एजी-डीजी की नियुक्तियों के फैसले पर सवाल किया और इसे बदलने की मांग की है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे एवं गिरफ्तारी की मांग को लेकर नवजोत सिंह सिद्दू राज्यपाल भवन के सामने धरने पर बैठे। पंजाब में लखीमपुर नरसंहार को लेकर आम लोगों में नाराजगी देखी जा रही है। लखीमपुर खीरी मामले पर यूपी के एडीजी प्रशांत कुमार ने किसानों से सहमति बनने के बारे में बताया। मरने वाले किसानों के लिए 45 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है। अब किसानों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।

कहा जा रहा है कि आज शाम से एसआईटी इस मामले की जांच शुरू कर सकती है। वहीं हिंसा पर 14 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है और 7 लोगों को हिरासत में लिया गया है। है। यूपी पुलिस ने अब तक 24 लोगों की पहचान की है। जबकि इस मामले के बीच सपा नेता अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव हिरासत में लिया गया है। वहीं शिवपाल यादव और जयंत चौधरी को भी हिरासत में रखा गया है। प्रियंका गांधी को भी हिरासत में लिया गया। बसपा के सतीश मिश्रा और पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर हाउस अरेस्ट किया गया।


Next Story