Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हनुमान बेनीवाल ने एनडीए से नाता तोड़ने का किया ऐलान, 2 लाख किसानों संग दिल्ली कर रहे हैं मार्च

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले हनुमान बेनीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार के पास 303 सांसद हैं। इसी वजह से मोदी सरकार कृषि कानूनों को वापस नहीं ले रही है। 1200 किलोमीटर दूर राजस्थान के किसान दिल्ली की ओर कूच कर रहे हैं।

हनुमान बेनीवाल ने एनडीए से नाता तोड़ने का किया ऐलान, 2 लाख किसानों संग दिल्ली कर रहे हैं मार्च
X

हनुमान बेनीवाल 

कृषि कानूनों के विरोध में एनडीए के सहयोगी दलों के तेवर बागी होते जा रहा हैं। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) के नेता हनुमान बेनीवाल ने शनिवार किसान आंदोलन के बीच कहा, शिवसेना और अकाली दल पहले ही एनडीए से नाता तोड़ लिया है अब आरएलपी ने भी एनडीए को छोड़ने का मन बना लिया है।

आरएलपी के राष्ट्रीय संयोजक हनुमान बेनीवाल ने आज एनडीए का साथ छोड़ने की घोषणा कर दी है। इस दौरान हनुमान बेनीवाल मैं एनडीए छोड़ने का ऐलान करता हूं। आरएलपी से पहले कृषि कानूनों के विरोध में अकाली दल भी एनडीए से नाता तोड़ चुकी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले हनुमान बेनीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार के पास 303 सांसद हैं। इसी वजह से मोदी सरकार कृषि कानूनों को वापस नहीं ले रही है। 1200 किलोमीटर दूर राजस्थान के किसान दिल्ली की ओर कूच कर रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, हनुमान बेनीवाल जयपुर, जोधपुर, कोटपुतली, अलवर, नागौर, जैसलमेर, जोधपुर समेत राजस्थान के कई जिलों से सैकड़ों की संख्या में किसानों के साथ साथ हरियाणा बॉर्डर के शाहजहांपुर की तरफ बढ़ रहे हैं। हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि शाहजहांपुर में मीटिंग के बाद एनडीए में रहने या छोड़ने पर फैसला लिया जाएगा।

बता दें कि राजस्थान के नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने हाल ही में कहा था कि किसान आंदोलन के समर्थन में 26 दिसंबर को उनकी पार्टी 2 लाख किसानों को लेकर राजस्थान से दिल्ली मार्च करेगी।

उसी दिन यह भी फैसला लिया जाएगा कि अब एनडीएम में रहना है या नहीं। जानकारी के लिए आपको बता दें कि हनुमान बेनीवाल पहले ही किसान आंदोलन के समर्थन में संसद की तीन समितियों की सदस्यता से इस्तीफा दे चुके हैं।

Next Story