Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना की मिक्स वैक्सीन पर ICMR की स्टडी रिपोर्ट आई सामने, देख रहे बेहतर परिणाम

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कोरोना की मिक्स वैक्सीन को लेकर एक स्टडी की है।

कोरोना की मिक्स वैक्सीन पर ICMR की स्टडी रिपोर्ट आई सामने, देख रहे बेहतर परिणाम
X

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) ने कोरोना की मिक्स वैक्सीन को लेकर एक स्टडी की है। जिसमें बेहतर परिणाम बताए जा रहे हैं। भारत ही नहीं दुनिया के कई देशों में कोरोना की मिक्स वैक्सीन पर शोध हो रहा है। आईसीएमआर ने कहा है कि कोविशील्ड और कोवैक्सिन की मिक्स खुराक ने बेहतर परिणाम दिखाए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आईसीएमआर के मुताबिक, जब एडिनोवायरस वेक्टर प्लेटफॉर्म पर आधारित दोनों टीकों को मिलाया गया। तो इससे न सिर्फ कोरोना के संक्रमण में कमी आई, बल्कि शरीर में कोरोना वायरस के खिलाफ इम्युनिटी काफी बेहतर दिखी। मिश्रित मिक्स इस्तेमाल पर सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं।

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल की शोध रिपोर्ट में पता चला है कि Covishield की पहली खुराक और Covaxin की दूसरी खुराक देने से वायरस के खिलाफ बेहतर इम्युनिटी दिखाई दी है। रिपोर्ट में कहा गया कि साल 2021 में ही यूपी राज्य में मई और जून में शोध किया गया। अध्ययन से पता चला है कि एडिनोवायरस वेक्टर पर आधारित दो अलग-अलग टीकों का संयोजन न केवल कोरोना के खिलाफ बल्कि वायरस के अलग वेरिएंट पर भी असरदार है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि जो लोग टीका लगवाने से डर रहे हैं ये शोध उन गलत धारणाओं और झिझक को दूर कर देगा। मिकस टीका न केवल टीकों की कमी को दूर करने में मदद कर सकते हैं, बल्कि विभिन्न लोगों की गलत धारणाओं को भी दूर करने में मदद कर सकता है। बीती 30 जुलाई को ही कोविड-19 पर विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन की मिक्स डोज पर अध्ययन के लिए मंजूरी की सिफारिश की थी।

Next Story