Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुंबई को बाढ़ से नहीं होगा नुकसान, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने लांच किया इंटीग्रेटेड फ्लड वार्निंग सिस्टम

मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक यह सिस्टम मुंबई शहर को खासतौर पर भारी बारिश और समुद्री चक्रवातों के आने से 72 घंटे पहले करीब 6 घंटे की मौसम की अपडेट के साथ पूर्वानुमान जारी करेगा।

दो हजार घरों में बाढ़ के पानी से नुकसान, लेकिन प्रशासन से सिर्फ दो सौ परिवारों को मिलेगा मुआवजाTwo thousand houses damaged due to flood water, but only two hundred families will get compensation from administration

हरिभूमि ब्यूरो। नई दिल्ली

मानसून के दौरान मुंबई में आने वाली भीषण बाढ़ से होने वाले जानमाल के नुकसान को अब कुछ कम किया जा सकेगा। क्योंकि इसके लिए शुक्रवार को केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ़ हर्षवर्धन और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उधव ठाकरे ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए एक स्टेट ऑफ द आर्ट इंटीग्रेटेड फ्लड वार्निंग सिस्टम को लांच किया है। इसकी मदद से शहर के किसी भी वार्ड में यह सिस्टम बाढ़ आने के तीन दिन पहले उसकी भविष्यवाणी करेगा।

जिससे मानव जीवन और संपत्ति को होने वाले किसी भी प्रकार के नुकसान को कम किया जा सकता है। मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक यह सिस्टम मुंबई शहर को खासतौर पर भारी बारिश और समुद्री चक्रवातों के आने से 72 घंटे पहले करीब 6 घंटे की मौसम की अपडेट के साथ पूर्वानुमान जारी करेगा। इससे निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने में मदद मिलेगी और बाढ़ से ज्यादा प्रभावित होने वाले स्पॉट को लेकर करीब 12 घंटे पहले भविष्यवाणी के जरिए चिन्हित किया जा सकेगा। इस सिस्टम को मंत्रालय ने बीएमसी के सहयोग से तैयार किया है। जिसमें उसने मंत्रालय के वैज्ञानिकों को शहर से जुड़ी हर छोटी बड़ी जानकारी प्रदान की है।

मुंबई की मदद करेगा
इस अवसर पर केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ़ हर्षवर्धन ने कहा कि भारत विज्ञान के मामले में दुनिया से कम नहीं है। मुंबई में 2005 और 2017 में आई बाढ़ को कोई भी नहीं भूला है। यह सिस्टम बाढ़ को लेकर पूर्व भविष्यवाणी करेगा जिससे मुंबई के लोगों को काफी मदद मिलेगी। इसी तरह का एक सिस्टम मंत्रालय से पहले विकसित किया था। उसे चेन्नई में प्रयोग किया जा रहा है। सुनामी को लेकर भी हमने एक विश्वस्तरीय अर्ली वार्निंग सिस्टम विकसित किया है। विज्ञान की इस सेवा को हम हिंद महासागर के क्षेत्र में विस्तार देना चाहते हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उधव ठाकरे ने कहा कि यह सिस्टम पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा मुंबई के लोगों को दिया गया एक उपहार है। उन्होंने स्वास्थ्य से लेकर निसर्ग तूफान का जिक्र करते हुए कहा कि ब्लड से लेकर फ्लड मैनेजमेंट दोनों बहुत जरूरी है। निसर्ग तूफान में केंद्रीय मंत्रालय द्वारा की गई सटीक भविष्यवाणी की वजह से राज्य में होने वाले जानमाल के नुकसान से बचा जा सका है।


Next Story
Top