Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हर कदम पर धोखा देता गया मेहुल चोकसी, जल्द भारत लाकर वसूली जाएगी पाई-पाई

पंजाब नेशनल बैंक को चूना लगाकर भागा मेहुल चोकसी की आजादी आखिर खत्म हो ही गई। 14 हजार करोड़ की चपत लगाकर एंटीगा में आराम फरमा रहे चोकसी की नागरकिता को एंटीगा ने रद्द कर दी। प्रधानमंत्री ने साफ शब्दों मे कहा कि हमारा देश किसी अपराधी के लिए सुरक्षित ठिकाना नहीं हो सकता।

हर कदम पर धोखा देता गया मेहुल चोकसी, जल्द भारत लाकर वसूली जाएगी पाई-पाईmehul choksi Antigua citizenship cancel mehul choksi full fraud history

पंजाब नेशनल बैंक को चूना लगाकर भागा मेहुल चोकसी की आजादी आखिर खत्म हो ही गई। 14 हजार करोड़ की चपत लगाकर एंटीगा में आराम फरमा रहे चोकसी की नागरकिता को एंटीगा ने रद्द कर दी। प्रधानमंत्री ने साफ शब्दों मे कहा कि हमारा देश किसी अपराधी के लिए सुरक्षित ठिकाना नहीं हो सकता। एंटीगा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने साफ कहा कि हम मेहुल की नागरिकता को रद्द करके उसे भारत के हवाले कर रहे हैं। मेहुल चोकसी फ्रॉड करने में कोई नया नहीं है उसने इसी के दम पर अपना पूरा महल खड़ा कर लिया।

5 मई 1959 को मुम्बई में जन्मे मेहुल चोकसी के खिलाफ आपराधिक विश्वासघात, धोखाधड़ी, सम्पत्ति के लिए बेईमानी, मनी लॉन्ड्रिंग सहित बहुत सारे केस हैं। पिछले कुछ समय से वह एंटीगा और बरमूडा में अपना ठिकाना बनाए हुए है। गीतांजलि जेम्स के नाम से शोरूम खोलकर मेहुल ने हीरे का कारोबार करना शुरू किया, गीतांजलि हमेशा से विवादों में रही। मुम्बई के ही डायमंड एक्सपर्ट ने दावा किया कि मेहुल ग्राहकों को नकली हीरे बेचता था।


दिल्ली के एक डायमंड एक्सपर्ट ने कहा कि उनके एक रिश्तेदार ने मेहुल के गीताजंलि जेम्स से हीरे के गहने खरीदे थे जिसकी जांच करने के बाद पता चला कि 5 लाख के गहने की कीमत महज 25 हजार रुपए है।

दरअसल कहा जाता है कि मेहुल के हीरे लैब में तैयार किए जाते हैं। इसको लेकर अमेरिका की एक अदालत ने चोकसी की उस देश में स्थित सैमुएल जूलर्स के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे जिसके बाद हीरे के लैब में बनने का मामला सामने आया है।

अंग्रेजी अखबार ने मेहुल पर एक स्पेशल रिपोर्ट छापी थी जिसमें कहा गया था कि चोकसी ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में स्थित एक प्रयोगशाला में नकली हीरे बनवाता है। जिसके बारे में किसी को कानों कान खबर नहीं हो सकी थी। मेहुल ने फ्रॉड करने के मामले में सबको पीछे छोड़ दिया।

उसने गीतांजलि जेम्स के साथ साथ अमेरिका में अपनी कंपनी सैमुएल जूलर्स के नाम पर पंजाब नेशनल बैंक से 2 करोड़ डॉलर यानी करीब 140 करोड़ लोन लिया। मेहुल कर्ज लेता गया, देने वाले जिम्मेदार अधिकारी अपने पर्सनल फायदे के लिए लोन देते गए।

ज्यादातर शोरूम से खरीदे गहने अगर 2 से तीन साल बाद बेचे जाते हैं तो वह अक्सर अपनी वास्तविक कीमत पर ही बिकते हैं पर डायमंड एक्सपर्ट बताते हैं कि गीतांजलि और सैमुएल जूलर्स के शोरूम से खरीदे गहने अक्सर मार्केट में आधे दाम पर बिकते हैं।

उसने अपने ग्राहकों को विश्वास में लेने के लिए गहनों का फर्जी प्रमाण पत्र भी देता था। जिसकी वैल्यू गीताजंलि शोरूम के बाहर निकलते ही जीरो हो जाती थी। फिलहाल एंटीगा ने भगोड़े मेहुल चोकसी की नागरिकता रद्द कर दी है उम्मीद है कि वह जल्द ही भारत लाया जाएगा और उससे वसूली की जाएगी।

Share it
Top