Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मौसम की जानकारी: गुजरात में बारिश और बाढ़ से हालात बेहद खराब- सड़कों पर बह रही कारें, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

एसपी बलराम मीना ने कहा कि भारी बारिश के चलते निचले इलाकों में पानी भर गया है। पुलिस, फायर विभाग, एनडीआरएफ (NDRF), एसडीआरएफ (SDRF) और अन्य टीमें मिलकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही हैं।

मौसम की जानकारी: गुजरात में बारिश और बाढ़ से हालात बेहद खराब- सड़कों पर बह रही कारें, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
X

गुजरात (Gujarat) में बारिश और बाढ़ (rains and floods) से हालात बेहद खराब हो गए हैं। सड़कों पर सैलाब के बीच कारें बह रही हैं, मकान डूब गए हैं। हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। गुजरात के जामनगर, राजकोट और जूनागढ़ (Jamnagar, Rajkot and Junagadh) में भारी बारिश (Rain) के चलते बाढ़ जैसे स्थिति हो गई है। सबसे ज्यादा हालात खराब जामनगर के हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से कार के बहने का वीडियो (Video) भी जारी किया गया है।

एसपी बलराम मीना ने कहा कि भारी बारिश के चलते निचले इलाकों में पानी भर गया है। पुलिस, फायर विभाग, एनडीआरएफ (NDRF), एसडीआरएफ (SDRF) और अन्य टीमें मिलकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही हैं। कल तक हमने पूरे ज़िले से 3000 से ज़्यादा लोगों को स्थानांतरित किया है। एनडीआरएफ की 6 टीमें और वायुसेना के 4 हेलिकॉप्टर रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे हैं।

नागरिक बचाव प्रयासों पर जोर देने के लिए छह और टीमें तैयार

बता दें कि नागरिक प्रशासन से सहायता के अनुरोध के आधार पर सपोर्ट गियर से लैस नौसेना के गोताखोरों की एक मानवीय सहायता एवं आपदा राहत (एचएडीआर) टीम को 13 सितंबर की शाम को अल्पकालीन सूचना पर जारी बाढ़ राहत कार्यों में शामिल होने के लिए आईएनएस सरदार पटेल से राजकोट के लिए भेजा गया। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में चल रहे नागरिक बचाव प्रयासों पर जोर देने के लिए छह और टीमें तैयार हैं।

इसी तरह, जामनगर में आईएनएस वलसुरा से कई बचाव दल तैनात किए गए हैं, ताकि शहर के बारिश प्रभावित और जलमग्न क्षेत्रों के विभिन्न हिस्सों में फंसे लोगों की सहायता की जा सके। जेमिनी बोट, लाइफ वेस्ट, प्राथमिक चिकित्सा किट और अन्य आवश्यक गियर से लैस टीमों ने बुजुर्गों और महिलाओं सहित बड़ी संख्या में लोगों को बचाया और उन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

नौसेना की टीमों ने फंसे हुए नागरिकों को भोजन के पैकेट भी उपलब्ध कराए। बाढ़ राहत गतिविधियों में किसी भी तरह की मदद की पेशकश करने के लिए वरिष्ठ नौसेना अधिकारी नागरिक प्रशासन के साथ लगातार संपर्क में हैं। अल्पकालिक सूचना पर भेजे जाने के लिए और बचाव दलों को तैयार रखा गया है।

Next Story