Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Mausam Ki Jankari: महाराष्ट्र में मानसून शुरू होने के बाद से 99 लोगों की मौत, गुजरात के 8 जिलों में रेड अलर्ट जारी- पढ़ें अपडेट

महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से लगभग सभी हिस्सों में भारी बारिश हो रही है, जिससे बाढ़ और जलभराव हो गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने आज पालघर जिले, पुणे और सतारा में ऑरेंज अलर्ट जारी किया।

Mausam Ki Jankari: महाराष्ट्र में मानसून शुरू होने के बाद से 99 लोगों की मौत, गुजरात के 8 जिलों में रेड अलर्ट जारी- पढ़ें अपडेट
X

महाराष्ट्र (Maharashtra) में बारिश और बाढ़ (Rain and Flood) ने कहर बरपाया हुआ है। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा कि महाराष्ट्र में बारिश से संबंधित घटनाओं में गुरुवार को चार लोगों की मौत हो गई। इसी के साथ मौजूदा मानसून सीजन में मरने वालों की संख्या 99 हो गई है। महाराष्ट्र में बारिश के कारण कुल 14 राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की टीमें और 6 राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (SDRF) को तैनात किया गया है।

महाराष्ट्र के कई जिलों में आज के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से लगभग सभी हिस्सों में भारी बारिश हो रही है, जिससे बाढ़ और जलभराव हो गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने आज पालघर जिले, पुणे और सतारा में ऑरेंज अलर्ट जारी किया। इस बीच मुंबई, ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, नासिक, कोल्हापुर, अकोला, अमरावती, भंडारा, बुलढाणा, चंद्रपुर, गढ़चिरौली, गोंदिया, नागपुर, वर्धा, वाशिम और यवतमाल में आज येलो अलर्ट जारी किया गया है। वहीं लातूर जिले में बारिश और बाढ़ की आशंका को देखते हुए अधिकारियों ने सभी स्कूलों में 15 और 16 जुलाई को दो दिन का अवकाश घोषित किया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के प्रयास जारी हैं। मैं बारीकी से निगरानी कर रहा हूं। सभी अधिकारी मेरे संपर्क में हैं। सभी डीएम फिल्ड में हैं। हमारी सरकार लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है।

गुजरात के आठ जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी

गुजरात में आपदा प्रबंधन मंत्री राजेंद्र त्रिवेदी ने शुक्रवार को कहा कि आठ जिलों - सूरत, जूनागढ़, गिर, भावनगर, तापी, डांग, वलसाड और नवसर में भारी बारिश के लिए रेड अलर्ट की घोषणा की गई है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में दो बांधों (मोदक सागर और तानसा) से पानी बहने के कारण पूर्णा नदी में जल स्तर बढ़ गया है। उन्होंने यह भी कहा कि मुंबई की ओर जाने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग और डांग और कच्छ में दो स्थानों पर बंद कर दिया गया है। त्रिवेदी ने कहा, "एनडीआरएफ की टीमें नवसारी और वलसाड जिलों में फंसे लोगों को बचाने के लिए अच्छा काम कर रही हैं।

और पढ़ें
Next Story