Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

महाराष्ट्र में हाई लेवल सियासी ड्रामा, एनसीपी को सरकार बनाने के लिए कल 8:30 बजे तक मौका

Maharashtra Government Formation : महाराष्ट्र में हर मिनट राजनीति बदल रही है। भाजपा द्वारा सरकार न बना पाने के बाद अब शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी पर सरकार बनाने का दारोमदार है। प्रदेश में हर मिनट राजनीति बदल रही है।

Maharashtra Government FormationMaharashtra Government Formation

Maharashtra Government Formation : महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा परिवर्तन देखने को मिला है। इसी के साथ महाराष्ट्र में सरकार के गठन की स्थिति साफ हो गई है। राज्य में कांग्रेस-एनसीपी के विरोध की राजनीति करने वाली शिवसेना उनके साथ गठबंधन कर सरकार बनाएगी। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस ने शिवसेना को बाहर से समर्थन देने का फैसला लिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस ने शिवसेना का सशर्त बहारी समर्थन दिया है। कांग्रेस ने विधासभा स्पीकर के पद की मांग की है। सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी के बीच दो डिप्टी सीएम को लेकर बातचीत हुई है। जानकारी के मुताबिक शिवसेना राज्यपाल से 24 घंटे का समय मांग सकती है। इसके बाद आदित्य ठाकरे, एकनाथ शिंदे के साथ राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी मिलने के लिए मातोश्री पहुंचें और राज्यपाल से मुलाकात की।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एनसीपी शिवसेना नेता के किसी वरिष्ठ नेता को सीएम बनाना चाहती है। ऐसे में उद्धव ठाकरे ही सबसे बेहतर विकल्प होंगे। वहीं शिवसेना ने एनसीपी को प्रस्ताव दिया है कि उनका गठबंधन महाराष्ट्र में किसानों, सूखे, रोजगार के मुद्दे पर होगा न कि किसी राष्ट्रीय मुद्दे को लेकर दोनों दल साथ आ रहे हैं। यही प्रस्ताव शिवसेना ने कांग्रेस को भी दिया है।

Live Update-

एनसीपी नेता जयंत पाटिल ने कहा कि तीसरी बड़ी पार्टी होने के नाते राज्यपाल ने हमें सरकार बनाने के लिए अगले 24 घंटे का समय दिया है। पाटिल ने कहा कि हम अपने सहयोगियों से बात करके जल्द ही राज्यपाल के पास आएंगे।

राष्ट्रवादी कांग्रेस के प्रवक्ता नवाब मलिक भी इस समय राजभवन पर मौजूद हैं मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमारी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल से मिल रहा है। उन्होंने कहा कि राज्यपाल द्वादा दिया गए पत्र के अनुसार एनसीपी और कांग्रेस आपस में विचार विमर्श करेंगे और देखेंगे कि राज्य को कैसे एक स्थिर सरकार दी जा सकती है।

राज्यपाल से मुलकात के बाद आदित्य ठाकर ने की प्रेस कॉनफ्रेंस

राज्यपाल से मुलाकात के बाद शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने कहा कि हमने राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी को बताया कि हम सरकार बनाना चाहते हैं। हमने राज्यपाल से दो दिन का और समय मांगा था। लेकिन राज्यपाल ने दो दिन का समय देने से साफ इनकार कर दिया। शिवसेना को केवल राज्यपाल ने 24 घंटे का समय दिया है। आदित्य ठाकरे ने कहा कि अभी दूसरी पार्टी से बातचीत जारी है। राज्यपाल ने हमारे सरकार बनाने के दावे को खारिज नहीं किया है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता अजीत पवार पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि उन्हें राज्पाल ने फोन करके मिलने के लिए बुलाया है। इसलिए वह मिलने आए हैं। राज्यपाल ने उन्हें क्यों बुलाया है इसपर वह कुछ नहीं बोले। बस इतना कहते हुए वह आगे बढ़ गए कि राज्यपाल एक महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं इसलिए उनसे मिलने जा रहे हैं।

आगे की चर्चा कल मुंबई में होगी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हमने पहले ही एक प्रेस नोट जारी किया है और हमने उल्लेख किया है कि हमने पहले ही कार्यसमिति के सदस्यों और हमारे पीसीसी नेताओं के साथ चर्चा की है। हमारे एआईसीसी अध्यक्ष ने शरद पवार जी से बात की है। आगे की चर्चा कल मुंबई में होगी।

शिवसेना को समर्थन पर फैसला नहीं

कांग्रेस ने महाराष्ट्र में शिवसेना को सर्मथन देने पर अभी अपना रुख साफ नहीं किया है। सोनिया गांधी के साथ वरिष्ठ नेताओं की बैठक के बाद कांग्रेस की ओर से जारी बयान में कहा गया है। जिसमें अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है। सोनिया गांधी फिर से एनसीपी प्रमुख शरद पवार से बातचीत कर आगे कोई फैसला लेंगी।

उद्धव ठाकरे 17 नवंबर को ले सकते हैं सीएम पद की शपथ

उद्धव ठाकरे 17 नवंबर को बालासाहेब ठाकरे की पुण्यतिथि के दिन महाराष्ट्र के सीएम के रूप में शपथ ले सकते हैं। शपथ ग्रहण समारोह शिवाजी पार्क में होने की संभावना है।

राजभवन में राज्यपाल कोशियारी से मिले आदित्य ठाकरे और शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे

शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे और आदित्य ठाकरे और अन्य नेताओं ने राजभवन में राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी से मुलाकात की है। कांग्रेस ने शिवसेना को बहारी समर्थन किया है। वहीं सूत्रों के एनसीपी ने भी शिवसेना को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है।

प्रियंका गांधी ने वीडियो कॉल पर विधायकों से की बात

प्रियंका गांधी वीडियो कॉल पर जयपुर के एक होटल में ठहरे महाराष्ट्र कांग्रेस के विधायकों से भी बात करती हैं। जानकारी के अनुसार, अधिकांश विधायक सरकार का हिस्सा बनने की मांग कर रहे हैं जबकि कुछ बाहरी समर्थन हासिल करना चाहते हैं।

अशोक गहलोत विधायकों से मिलने पहुंचे

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत महाराष्ट्र के विधायकों का हाल जानने के लिए जयपुर होटल पहुंचे हैं।

राजभवन पहुंचे तीन निर्दलीय उम्मीदवार

मुंबई में राजभवन के बाहर राजभवन ओमप्रकाश बाबाराव कडू मौदूज हैं। उन्होंने कहा कि हममें से तीन (निर्दलीय उम्मीदवार) यहां आए हैं। उद्धव साहब जो तय करेंगे, वही मुख्यमंत्री होगा।

एकनाथ शिंदे के साथ राज्यपाल से मिलने पहुंचे आदित्य ठाकरे

राज्यपाल से मुलाकात करने के लिए शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे और एकनाथ शिंदे के राजभवन पहुंच गए हैं। शिवसेना के नेता राजयपाल से मुलाकात कर रहे हैं। वहीं सुभाष देसाई सहित शिवसेना के कई अन्य नेता मातोश्री में मौजूद हैं। आपको बता दें कि 7:30 बजे के भीतर शिवसेना को राज्यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश करना है।

सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे की फोन पर बात हुई

खबर है कि कांग्रेस के अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने थोड़ी देर पहले टेलीफोन पर बातचीत की है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जयपुर के एक होटल में ठहरे कुछ विधायकों से बात की है। सभी विधायक शिवसेना को समर्थन देने के लिए तैयार हैं।

सोनिया गांधी के साथ नेताओं की बैठक

महाराष्ट्र में सरकार के गठन को लेकर सोनिया गांधी के आवास पर लगभग तीन घंटे बैठक हुई है। कांग्रेस नेता अहमद पटेल, मुकुल वासनिक, अविनाश पांडे महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता पृथ्वीराज चव्हाण, अशोक चव्हाण, बालासाहेब थोराट के अलावा कई अन्य नेता बैठक में मौजूद रहे। बैठक के बाद नेता सोनिया गांधी के आवास से निकल गए हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बैठक के लिए सोनिया गांधी के आवास पर पहुंचे

कांग्रेस नेता एके एंटनी और अहमद पटेल 10 जनपथ (कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास) पहुंच गए हैं। महाराष्ट्र में राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के लिए पार्टी के महाराष्ट्र के नेताओं को दिल्ली बुलाया गया है। बैठक शुरू होने वाली है। अशोक चव्हाण भी सोनिया गांधी के घर पहुंचे हैं।

बीजेपी कोर कमेटी की बैठक दोवारा शुरू

मुंबई में देवेंद्र फडणवीस के आवास पर बीजेपी कोर कमेटी की बैठक दोवारा से शुरू हो गई है। इस बैठक में आगे की रणनीति तय की जा रही है।

तभी लोग कांग्रेस पर भरोसा करेंगे

जनता दल (सेकुलर) के प्रमुख और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कहा कि यदि कांग्रेस शिवसेना को समर्थन देती है, तो उन्हें अगले 5 साल तक परेशान नहीं होना चाहिए। तभी लोग कांग्रेस पर भरोसा करेंगे। बालासाहेब ने महाराष्ट्र में भाजपा को जगह दी, आडवाणी और वाजपेयी बाला साहेब के निवास पर गए और उनसे सीटों के लिए अनुरोध किया। बीजेपी ने इस बात पर जोर दिया कि इसीलिए उद्धव ठाकरे ने एक स्टैंड लिया कि वह उन्हें सबक सिखाएंगे। अब, यह कांग्रेस और राकांपा के लिए भाजपा को गिराने के लिए है।

आप आदित्य ठाकरे को यू-ट्यूब पर देखेंगे तो आपको उनकी क्षमता का पता चलेगा

अरविंद सावंत ने एक सवाल के जवाब में कहा कि आप आदित्य ठाकरे को यू-ट्यूब पर देखेंगे तो आपको उनकी क्षमता का पता चलेगा। इस युवा लड़के के पास क्या क्षमता है। वह देश का दूरदर्शी नेता है।

कांग्रेस ने महाराष्ट्र के अपने वरिष्ठ नेताओं को दिल्ली बुलाया

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात करने के लिए 'मातोश्री' पहुंचे हैं। दोनों नेताओं के बीच बातचीत हुई। मिली जानकारी के अनुसार अब कांग्रेस इस गठबंधन को समर्थन देगी यहा नहीं, इसका फैसला वह आज शाम हो सकता है। कांग्रेस ने महाराष्ट्र के अपने वरिष्ठ नेताओं को दिल्ली बुलाया है। आज शाम चार बजे होने वाली बैठक में पार्टी महाराष्ट्र की सियासत पर फाइनल फैसला लेगी। राज्यपाल से भी उद्धव ठाकरे मुलाकत करेंगे।

अब महाराष्ट्र में नई सरकार बनने जा रही है

इसी बीच केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल से शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने इस्तीफा दे दिया है। एनडीए से शिवसेना के बाहर आने के सवाल पर बोले अरविंद ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि जब मैंने इस्तीफा दे दिया है, तो इसका मतलब आप समझ सकते हैं। सावंत भाजपा पर आरोप लगाया कि बीजेपी ने चुनाव से पहले तय की गईं बातें नहीं मानीं और नकार भी दिया। इसलिए नैतिक रूप से इस सरकार में रहना सही नहीं। अब महाराष्ट्र में नई सरकार बनने जा रही है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने शिवसेना को झूठा साबित करने की कोशिश। लेकिन ठाकरे परिवार अपनी जुबान पर टिका रहा है।

कांग्रेस विधायकों ने शिवसेना को समर्थन देने के लिए हस्ताक्षर किए

वहीं कांग्रेस विधायकों ने शिवसेना को समर्थन देने के लिए हस्ताक्षर किए हैं। हस्ताक्षर वाला पत्र कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौंपा है। अब कांग्रेस ने महाराष्ट्र वरिष्ठ नेताओं को फैसला लेने के लिए दिल्ली बुलाया है। शाम चार बजे बैठक में समर्थन के ऊपर फैसला किया जाएगा।

दूसरी तरफ एनसीपी की बैठक खत्म हो गई है। जिसके बाद प्रेसवार्ता कर पार्टी ने बताया है कि कांग्रेस का फैसला होने के बाद पार्टी के निर्णय की जानकारी दी जाएगी। महाराष्ट्र में वैकल्पिक सरकार बनाना हमारी जिम्मेदारी है। इसके कारण सरकार बनाने की कोशिश की जाएगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के निर्णय होने तक हमारा कोई निर्णय नहीं है। हमने गठबंधन में चुनाव लड़ा था ऐसे में मिलकर ही फैसला करेंगे।

राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश का आरोप

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर शिवसेना की तरफ से सोमवार सुबह प्रेसवार्ता की गई है। जिसमें संजय राउत ने कहा है कि प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की कोशिश है। भाजपा को सरकार बनाने के लिए 72 घंटे दिए गए। जबकि शिवसेना को उससे कम समय दिया गया है। शिवसेना को सरकार बनाने के लिए अधिक समय दिया जाएगा। उन्होंने कहा भाजपा से गठबंधन तोड़ने के लिए हम जिम्मेदार नहीं हैं। कांग्रेस-एनसीपी का फैसला अहम और अपेक्षित है। उन्होंने कांग्रेस-राकांपा से अपील की है कि मतभेद भूल कर महाराष्ट्र के हित में न्यूनतम साझा कार्यक्रम के साथ आना चाहिए

राज्यपाल से मिलेंगे उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी ने दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के नाते शिवसेना को सरकार गठन के लिए आमंत्रित किया है। जिसके बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के निवास मतोश्री पर रातभर इसके संबंध में बैठक चली है। इसके बाद आज सुबह विधायकों की बैठक बुलायी गई है। सूत्रों के मुताबिक शिवसेना के नेतृत्व में कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन की सरकार बनायी जाएगी। इसको लेकर शिवेसना सोमवार दोपहर तक राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी से मिलेगी। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में राज्यपाल से मुलाकात कर निर्दलीय और शिवसेना विधायकों को पत्र सौंपेंगे। उससे पहले शरद पवार शिवसेना नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं।

कांग्रेस से बातचीत कर समर्थन पर फैसला

एनसीपी नेता शरद पवार ने कहा है कि कांग्रेस के साथ बैठक के बाद समर्थन पर फैसला किया जाएगा। दूसरी तरफ कांग्रेस ने भी वर्किंग कमेटी की बैठक सोमवार सुबह बुला ली है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बताया कि दिल्ली में सुबह 10.30 बजे वर्किंग कमेटी की बैठक में आगामी रणनीति पर फैसला किया जाएगा। बैठक में हिस्सा लेने के लिए अहमद पटेल, केसी वेणुगोपाल और मल्लिकार्जुन खड़गे सोनिया गांधी के आवास पर पहुंच गए हैं। गठबंधन के संबंध में नवाब मलिक ने कहा कि बैठक में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम सुनिश्चित होगा। बैठक में चर्चा होने के बाद रणनीति पर फैसला हो पाएगा। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस के 44 में से 37 विधायकों ने शिवसेना को समर्थन देने की बात कही है।


बीजेपी विपक्ष में बैठने को तैयार

शिवसेना नेता संजय राउत की तरफ से सोमवार सुबह प्रेसवार्ता की गई है। उन्होंने कहा कि बीजेपी विपक्ष में बैठने को तैयार है। बीजेपी का ये अहंकार है कि राज्यपाल से निमंत्रण मिलने के बाद भी सरकार नहीं बनाने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने जनादेश का अपमान किया है। बीजेपी 50-50 के फॉर्मूले पर तैयार नहीं हुई।

एनसीपी ने भी बुलाई पार्टी की बैठक

महाराष्ट्र में गठबंधन की सरकार बनने की अटकलें तेज हो गई हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ने भी पार्टी की बैठक बुला ली है। सूत्रों के मुताबिक एनसीपी की कोर कमेटी की बैठक आज सुबह 10 बजे होगी। जबकि विधायकों की बैठक मंगलवार को बुलायी गई है। जिसमें विधायक दल का नेता चुना जाएगा। आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि पार्टी प्रमुख शरद पवार विधायकों की बैठक लेंगे।

सोनिया गांधी से मिलेंगे शरद पवार

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से एनसीपी मुखिया शरद पवार मुलाकात करेंगे। एनसीपी की बैठक के बाद मंगलवार को सोनिया गांधी से मुलाकात होगी। जिसमें सरकार गठन को लेकर अंतिम चरण की बातचीत की जाएगी। इसके अलावा सरकार बनने पर आगे की स्थिति स्पष्ट की जा सकती है।

बीजेपी ने भी बुलायी बैठक

प्रदेश में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन में सरकार बनने की अटकलें तेज हो गई हैं। ऐसे में अब भाजपा की तरफ से भी बैठक बुलायी गई है। बीजेपी कोर समूह की बैठक देवेंद्र फडणवीस के आवास पर होगी। जिसमें भाजपा की आगे की रणनीति तय की जाएगी।

Next Story
Share it
Top