Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महाराष्ट्र: पुलिस की मुठभेड़ में पांच नक्सली ढेर, भारी मात्रा में हथियार बरामद

मारे गए नक्सलियों में 2 महिलाएं और 3 पुरुष थे। इन नक्सलियों के शव घटनास्थल से बरामद हुए हैं। जिले की कुरखेड़ा तहसील में खोब्रामेंढ़ा जंगल क्षेत्र में पिछले 3 दिन से सी-60 दल का नक्सल विरोधी अभियान चल रहा था। इस मुठभेड़ में बड़े पैमाने में नक्सली सामग्री बरामद हुई है। इन नक्सलियों से बरामद की गई सामग्री में बंदूक, विस्फोटक और रोजमर्रा की सामग्री है।

महाराष्ट्र: पुलिस की मुठभेड़ में पांच नक्सली ढेर, भारी मात्रा में हथियार बरामद
X

पुलिस की मुठभेड़ में पांच नक्सली ढेर

Maharashtra Naxal Encounter महाराष्ट्र के गढ़चिरोली जिले में सोमवार को पुलिस और नक्सली के बीच मुठभेड़ (Police Encounter) हो गई। दोनों तरफ से ताबड़तोड़ गोलियां चली। इस मुठभेड़ में पुलिस ने पांच नक्सली को मार (Five Naxalites Killed) गिराया। जिसमें 2 महिलाएं और 3 पुरुष थे। इन नक्सलियों के शव घटनास्थल से बरामद हुए हैं। जिले की कुरखेड़ा तहसील में खोब्रामेंढ़ा जंगल क्षेत्र में पिछले 3 दिन से सी-60 दल का नक्सल विरोधी अभियान (Anti Naxal Operations) चल रहा था। इस मुठभेड़ में बड़े पैमाने में नक्सली सामग्री बरामद हुई है।

गढ़चिरोली पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

जानकारी के मुताबिक, मारे गए नक्सलियों से बरामद की गई सामग्री में बंदूक, विस्फोटक और रोजमर्रा की सामग्री है। ऐसे में होली के दिन गढ़चिरोली पुलिस को आज ये बड़ी कामयाबी मिली है। बताया जाता है कि विदर्भ के गढ़चिरौली और गोंदिया जिले नक्सल प्रभावित हैं। गढ़चिरौली जिले में सबसे ज्यादा नक्सली घटनाएं होती हैं, जबकि गोंदिया जिले को नक्सल रेस्ट जोन के रूप में जाना जाता है।

पहले भी नक्सलियों के मंसूबों पर फिर चुका है पानी

पिछले कुछ महीनों में गोंदिया जिले में भी नक्सली गतिविधियां शुरू होने के संकेत मिलते रहे हैं। बीते साल गोंदिया जिले में पुलिस ने हथियारों और गोला-बारूद का जखीरा जब्त किया था। अगर नक्सली इन हथियारों का प्रयोग कर लेते तो पुलिस और सुरक्षाबलों को भारी नुकसान हो सकता था। लेकिन पुलिस की सतर्क टीम ने गोंदिया के घने जंगलों से समय रहते 150 विस्फोटक छड़ें, 27 इलेक्ट्रिक डेटोनेटर बरामद कर एक बड़ी साजिश को नाकाम किया था।

Next Story