Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

औरंगाबाद एयरपोर्ट का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज एयरपोर्ट रखा गया, जानें कौन थे ये

एक अधिकारी के मुताबिक, यह फैसला महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुए राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया है।

औरंगाबाद एयरपोर्ट का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज एयरपोर्ट रखा गया, जानें कौन थे येऔरंगाबाद एयरपोर्ट का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज एयरपोर्ट रखा गया

महाराष्ट्र सरकार ने गुरुवार को औरंगाबाद एयरपोर्ट का नाम बदलने का ऐलान कर दिया है। उद्धव सरकार ने एयरपोर्ट का नाम बदलकर छत्रपति संभाजी महाराज एयरपोर्ट कर दिया है। संभाजी महाराज मराठा योद्धा राजा छत्रपति शिवाजी महाराज के पुत्र थे।

एक अधिकारी के मुताबिक, यह फैसला महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुए राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया है। वाणिज्य मंत्री सुभाष देसाई ने एयरपोर्ट के नाम बदलने को लेकर कहा कि शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के गठबंधन वाले महाविकास अघाडी राज्य के लोगों से किए गए वादों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है।

की जा रही थी ये मांग भी

बात दें कि इसके पहले कोल्हापुर एयरपोर्ट का नाम बदलकर छत्रपति राजाराम महाराज एयरपोर्ट रखने की मांग की जा रही थी। जो औरंगाबाद एयरपोर्ट नाम बदलने से पहले इस एयरपोर्ट का अभी नाम बदला जा चुका है।

जानें कौन थे संभाजी महाराज

छत्रपती संभाजी राजे मराठा सम्राट और छत्रपति शिवाजी महाराज के उत्तराधिकारी थे। उस समय मराठाओं के सबसे प्रबल शत्रु मुगल बादशाह औरंगजेब बीजापुर और गोलकुण्डा का शासन हिंदुस्तानन से समाप्त करने में उनकी प्रमुख भूमिका रही।

संभाजी राजे अपनी शौर्यता के लिये काफी प्रसिद्ध थे। संभाजी महाराज ने अपने कम समय के शासन काल में 168 युद्ध किए और इसमे एक प्रमुख बात ये थी कि उनकी सेना एक भी युद्ध में पराजित नहीं हुई।

शंभाजी राजे मराठा समुदाय से आते हैं जो की एक तरह का क्षत्रिय जनसमुदाय है, उनके पराक्रम की वजह से परेशान हो कर दिल्ली के बादशाह औरंगजेब ने कसम खायी थी के जब तक छत्रपती संभाजी पकड़े नहीं जाएंगे, वो अपना किमोंश सर पर नहीं चढ़ाएगा।

Next Story
Top