Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Madhya Pradesh Government : कमलनाथ ऐसे बना सकते हैं दोबारा सरकार

Madhya Pradesh Government : मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस्तीफे का ऐलान कर दिया है। लेकिन अभी भी एक रास्ता है जिसके जरिए कमलनाथ दोबारा सरकार बना सकते हैं। जिसका संकेत कमलनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भी दिया है।

Madhya Pradesh Government : कमलनाथ ऐसे बना सकते हैं दोबारा सरकार

Madhya Pradesh Government : मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भले इस्तीफे का ऐलान कर दिया है। लेकिन कमलनाथ दूसरी बार भी सरकार बना सकते हैं। कमलनाथ ने दूसरी बार सरकार बनाने के संकेत भी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिए हैं। आइये जानते हैं कि कैसे कमलनाथ दूसरी बार सरकार बना सकते हैं।

कमलनाथ ऐसे बना सकते हैं दूसरी बार सरकार

मध्यप्रदेश विधानसभा में 230 सीटें हैं। लेकिन 21 विधायकों के इस्तीफे और 2 विधायकों के निधन समेत कुल 24 सीटें खाली हो गई हैं। यानि कि मध्यप्रदेश विधानसभा में अभी सिर्फ 206 विधायक हैं। ऐसे में चुनाव आयोग की तरफ से छह माह के भीतर 24 सीटों पर उप चुनाव कराए जाएंगे।

वहीं कांग्रेस के साथ निर्दलयी समेत 99 विधायक हैं। जबकि भाजपा को 107 विधायकों का समर्थन प्राप्त है। भाजपा भले अभी 107 विधायकों के सहारे सरकार बना सकती हैं। लेकिन उप चुनाव होने के बाद कुल 116 विधायकों का समर्थन होना जरूरी है। ऐसे में यदि 24 विधानसभा की सीटों में से कांग्रेस 17 सीटें जीतने में कामयाब हो जाती है तो दोबारा से कमलनाथ सरकार बना लेंगे। वहीं भाजपा को स्थिर सरकार के लिए 24 में से 10 सीटें उप चुनाव में जीतना बेहद जरूरी होगा।

विधानसभा सीटों पर कांग्रेस का प्रभाव है ज्यादा

जिन 20 विधायकों ने कांग्रेस से इस्तीफा दिया है वहां पार्टी का वर्चस्व है। ऐसे में उप चुनाव के दौरान भाजपा को कांग्रेस की तरफ से कड़ी टक्कर मिलेगी। ऐसे में बहुत संभावनाएं हैं कि उप चुनाव में जीत हासिल कर कांग्रेस और कमल नाथ बहुमत जुटा लें।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिए कमलनाथ ने संकेत

कमलनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दोबारा सरकार बनाने के संकेत दिए हैं। कमलनाथ ने कहा कि मुझे जनता ने पांच साल का प्रमाण पत्र दिया था। मेरे लिए यह प्रमाण सबसे ज्यादा जरुरी और अहम है। जनता से दोबारा में यह प्रमाण पत्र लेकर आउंगा। जिससे स्पष्ट है कि उप चुनाव में दोबारा से जीत हासिल करने की रणनीति पर कांग्रेस ने काम करना शुरू कर दिया है।

Next Story
Top