Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Madhya Pradesh : राज्यपाल के अभिभषण के बाद विधानसभा 26 मार्च तक के लिए स्थगित, भाजपा पहुंची SC

Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश में बजट सत्र के शुरू होते ही 25 मिनट की कार्यवाही के बाद 26 मार्च तक के लिए सदन को स्थगित कर दिया गया है।

Madhya Pradesh Live: विधानसभा पहुंचे बीजेपी और कांग्रेस के विधायक, सीएम कमलनाथ ने दिखाया विक्ट्री का साइनसीएम कमलनाथ

Madhya Pradesh मध्य प्रदेश में बजट सत्र के शुरू होते ही 25 मिनट की कार्यवाही के बाद 26 मार्च तक के लिए सदन को स्थगित कर दिया गया है। राज्यपाल लालजी टंडन, कांग्रेस, भाजपा और अन्य दलों के सभी प्रतिनिधि पहुंच थे।

मध्य प्रदेश विधानसभा लाइव (Madhya Pradesh Assembly Live) -

विधानसभा स्थगित होने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।

मध्य प्रदेश में सीएम कमलनाथ के लिए राहत भरी खबर है। विधानसभा की कार्यवाही 26 मार्च तक स्थगित कर दी है।

मध्य प्रदेश विधानसभा 26 मार्च तक के लिए स्थगित, कमलनाथ सरकार को मिला वक्त, आज नहीं होगा फ्लोर टेस्ट

विधानसभा पहुंचे राज्यपाल लालजी टंडन

कांग्रेस मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि हम फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार हैं

विधानसभा पहुंचे बीजेपी और कांग्रेस के विधायक, कमलनाथ और शिवराज भी मौजूद

विधानसभा के लिए सीएम कमलनाथ घर से निकले, दिखाया विक्ट्री का साइन

पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ बीजेपी विधायक मध्य प्रदेश विधानसभा पहुंचे

16 मार्च यानी आज से विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो रहा है।

राज्यपाल ने कल मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिखकर कहा था कि विधानसभा में विश्वास मत के लिए 'हाथों को ऊपर उठाने' के तरीके का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

बीते शनिवार को राज्यपाल ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार को फ्लोर टेस्ट के लिए फरमान दिया था। जो कांग्रेस के पूर्व नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के वफादार माने जाते हैं। बीते दिनों 19 विधायकों ने राज्यपाल को अपने इस्तीफे भेजा और 22 ने स्पीकर को, वहीं 6 के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया गया है।

राजनीतिक संकट के बीच कांग्रेस के विधायक रविवार को भोपाल लौट आए और बीजेपी विधायक दल ने अपने सभी विधायकों को सोमवार को सदन में मौजूद रहने और पार्टी के पक्ष में मतदान करने का व्हिप जारी किया। विश्वास मत हरियाणा के एक होटल में ठहरे भाजपा विधायक सोमवार तड़के भोपाल लौट आए। उन्हें कुछ दिन पहले ही हरियाणा ले जाया गया था।

अध्यक्ष ने छह मंत्रियों के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया था, जो 22 बागी विधायकों में से हैं। इसके साथ सदन की ताकत 222 पर आ गई और बहुमत के लिए 112 सदय चाहिएं।

Next Story
Top