Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुस्लिम महिलाओं ने आजम के 'खाकी अंडरवियर' वाले बयान की आलोचना की, जानें क्या कहा

रामपुर संसदीय सीट पर विकास कार्ड लैंगिक असंवेदनशीलता पर भारी पड़ता नजर आ रहा है जहां कई मुस्लिम महिलाएं सपा नेता आजम खान की तरफ से जया प्रदा के खिलाफ किए गए अंडरवियर वाले कथित बयान को भले ही अनुचित मान रही हों लेकिन वह उनके काम से प्रभावित होकर अपना वोट उन्हें दे सकती हैं।

मुस्लिम महिलाओं ने आजम के

रामपुर संसदीय सीट पर विकास कार्ड लैंगिक असंवेदनशीलता पर भारी पड़ता नजर आ रहा है जहां कई मुस्लिम महिलाएं सपा नेता आजम खान की तरफ से जया प्रदा के खिलाफ किए गए अंडरवियर वाले कथित बयान को भले ही अनुचित मान रही हों लेकिन वह उनके काम से प्रभावित होकर अपना वोट उन्हें दे सकती हैं। ज्यादातर मुस्लिम महिलाओं का मानना है कि समाजवादी पार्टी (सपा) नेता को लोकसभा सीट पर उनके खिलाफ खड़ी भाजपा प्रत्याशी एवं अभिनेत्री से नेता बनीं जया प्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने से बचना चाहिए था लेकिन कुछ ऐसी भी हैं जो जोरदार तरीके से उनका समर्थन करती हैं।

कई महिलाओं ने कहा कि क्षेत्र से नौ बार विधायक रहे खान ने किसी का नाम नहीं लिया था और जया प्रदा इसका मुद्दा बना रही हैं। कुछ ने कहा कि उनका वोट खान को ही जाएगा क्योंकि उन्होंने रामपुर में महिलाओं की सुरक्षा को प्राथमिकता दी है और इसलिए भी, क्योंकि भाजपा को हराना जरूरी है। होटल में काम करने वाली यास्मीन सफदार ने कहा कि खान ने रामपुर को भारत के महत्त्वपूर्ण शहरों में शुमार किया और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के इस नगर के लिए बहुत मेहनत की है।

यहां 23 अप्रैल को तीसरे चरण के चुनाव में मतदान होंगे। उन्होंने 'खाकी अंडरवियर' वाली टिप्पणी की आलोचना करते हुए कहा कि खान को बोलते वक्त संयम बरतना चाहिए और निजी हमलों से बचना चाहिए। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि मैं और मेरा परिवार आजम खान के लिए वोट करेंगे क्योंकि उन्होंने रामपुर के विकास के लिए बहुत काम किया है और उन्हीं के कारण से यहां महिलाओं की सुरक्षा को लेकर कोई समस्या नहीं रही।

वहीं निजी नौकरी करने वाली फातिमा परवेज ने यह मानने से ही इनकार कर दिया कि आजम खान ने जया प्रदा के खिलाफ ऐसी कोई टिप्पणी की होगी। उन्होंने कहा कि अगर उन्होंने ऐसी 'गलत टिप्पणी' की भी है तो भी वह बहुत अच्छे इंसान हैं। परवेज ने एक समाचार एजेंसी से कहा कि उन्होंने रामपुर में विकास के बहुत से कार्य किए हैं। कितनी सड़कों का निर्माण उन्होंने करवाया है। आजम खान की वजह से रामपुर लड़कियों के लिए सुरक्षित है। निश्चित तौर पर मैं उनके लिए वोट करुंगी। इसमें कोई शक नहीं है।

जया प्रदा का नाम लिए बिना खान ने हाल में रामपुर की एक रैली में कहा था कि उन्होंने 10 साल तक आपका प्रतिनिधित्व किया। रामपुर के लोग, उत्तर प्रदेश एवं भारत के लोग, आपको उनकी वास्तविकता को समझने में 17 साल लग गए। लेकिन मैं 17 दिन में ही पहचान गया था कि वह खाकी रंग का अंडरवियर पहनती हैं।

सोमवार को खान के चुनाव प्रचार करने पर 72 घंटे की रोक लगा दी गई थी। उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के साथ ही राष्ट्रीय महिला आयोग ने टिप्पणी के लिए उन्हें नोटिस जारी किया था। भाजपा ने भी खान की कड़ी आलोचना की और उनकी टिप्पणी की तुलना महाभारत में द्रौपदी के 'चीरहरण' से की थी।

Share it
Top