Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएम मोदी बोले- उत्तर भारत का logistic गेटवे बनेगा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, यूपी की पिछली सरकार पर लगाया बड़ा आरोप- पढ़ें दमदार भाषण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास के बाद जनता को संबोधित किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी को, देश के सभी लोगों को, उत्तर प्रदेश के भाई-बहनों को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बहुत-बहुत बधाई।

पीएम मोदी बोले- उत्तर भारत का logistic गेटवे बनेगा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, यूपी की पिछली सरकार पर लगाया बड़ा आरोप- पढ़ें दमदार भाषण
X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश में गौतमबुद्धनगर के जेवर में एशिया के सबसे बड़े नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का शिलान्यास किया। पीएम मोदी के एयरपोर्ट पर पहुंचते ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया। बता दें कि हवाई अड्डे के पहले चरण का विकास 10,050 करोड़ से अधिक की लागत से किया जा रहा है। हवाई अड्डा 1300 हेक्टेयर से अधिक जगह में फैला हुआ है। हवाई अड्डे के पहले चरण के पूरा ही इसकी क्षमता सालाना 1.2 करोड़ यात्रियों की सर्व करने की होगी। और इस पर काम 2024 तक पूरा होने वाला है। प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर कहा था कि इस परियोजना से व्यापार, संपर्क और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एशिया के सबसे बड़े एयरपोर्ट का किया शिलन्यास, पढ़ें पूरा भाषण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के शिलान्यास के बाद जनता को संबोधित किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी को, देश के सभी लोगों को, उत्तर प्रदेश के भाई-बहनों को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बहुत-बहुत बधाई। इसका बहुत बड़ा लाभ दिल्ली-एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के करोड़ों लोगों को होगा।

भारत बढ़कर एक बेहतरीन आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा

21वीं सदी का नया भारत बढ़कर एक बेहतरीन आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण कर रहा है। बेहतर सड़कें, बेहतर रेल नेटवर्क, बेहतर एयर पोर्ट, ये सब इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स ही नहीं होते, बल्कि ये पूरे क्षेत्र का कायाकल्प कर देते हैं, लोगों का जीवन पूरी तरह से बदल देते हैं। गरीब हो या मध्यम वर्ग किसान हो या व्यापारी, मजदूर हो या उद्यमी हर किसी को इसका बहुत बहुत लाभ मिलता है। इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट की ताकत और बढ़ जाती है जब उसके साथ सीमलेस कनेक्टिविटी हो, लास्ट माइल कनेक्टिविटी हो।

तेजी से भारतीय कंपनियां सैकड़ों नए विमानों को खरीद रही

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कनेक्टिविटी की दृष्टि से भी एक बेहतरीन मॉडल बनेगा। यहां आने जाने के लिए टैक्सी से लेकर मेट्रो और रेल तक हर तरह की कनेक्टिविटी होगी। आज देश में जितनी तेजी से एविएशन सेक्टर में वृद्धि हो रही है, जिस तेजी से भारतीय कंपनियां सैकड़ों नए विमानों को खरीद रही हैं, उनके लिए भी नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की बहुत बड़ी भूमिका होगी। ये एयरपोर्ट विमानों के रख-रखाव, रिपेयर और ऑपरेशन का भी देश का सबसे बड़ा सेंटर होगा।

हजारों लोगों को ये एयरपोर्ट नए रोजगार भी देगा

इस एयरपोर्ट के माध्यम से पहली बार देश में इंटीग्रेटेड मल्टीमॉडल कार्गो हब की कल्पना साकार हो रही है। इससे इस पूरे क्षेत्र के विकास को एक नई गति मिलेगी, एक नई उड़ान मिलेगी। हवाई अड्डे के निर्माण के दौरान रोजगार के हजारों अवसर बनते हैं। हवाई अड्डे को सुचारु रूप से चलाने के लिए भी हजारों लोगों की आवश्यकता होती है। पश्चिमी यूपी के हजारों लोगों को ये एयरपोर्ट नए रोजगार भी देगा।

दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे भी तैयार होने वाला है

अब तो दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे भी तैयार होने वाला है। उससे भी अनेकों शहरों तक पहुंचना आसान हो जाएगा। इतना ही नहीं यहां से डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के लिए भी सीधी कनेक्टिविटी होगी। यहां अलीगढ़, मथुरा, मेरठ, आगरा, बिजनौर, मुरादाबाद, बरेली जैसे अनेकों औद्योगिक क्षेत्र हैं। यहां सर्विस सेक्टर का बड़ा इकोसिस्टम भी है और एग्रीकल्चर सेक्टर में भी पश्चिमी उत्तर प्रदेश की अहम हिस्सेदारी है। अब इन क्षेत्रों का सामर्थ्य भी बहुत ज्यादा बढ़ जाएगा।

उत्तर प्रदेश को वो मिलना शुरु हुआ है जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है

आज़ादी के 7 दशक बाद, पहली बार उत्तर प्रदेश को वो मिलना शुरु हुआ है, जिसका वो हमेशा से हकदार रहा है। डबल इंजन की सरकार के प्रयासों से, आज उत्तर प्रदेश देश के सबसे कनेक्टेड क्षेत्र में परिवर्तित हो रहा है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी लाखों करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है। रैपिड रेल कॉरिडोर हो, एक्सप्रेस वे हो, मेट्रो कनेक्टिविटी हो, पूर्वी और पश्चिमी समंदर से उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाले डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर हों। ये आधुनिक होते उत्तर प्रदेश की नई पहचान बन रहे हैं। साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट उत्तर भारत का logistic गेटवे बनेगा।

यूपी की नई इंटरनेशनल एयर कनेक्टिविटी नए आयाम दे रही

पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को अभाव और अंधकार में बनाए रखा, पहले की सरकारों ने जिस उत्तर प्रदेश को हमेशा झूठे सपने दिखाए, वही उत्तर प्रदेश आज राष्ट्रीय ही नहीं, अंतर्राष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है। आज देश और दुनिया के निवेशक कहते हैं- उत्तर प्रदेश यानी - उत्तम सुविधा, निरंतर निवेश। यूपी की इसी अंतरराष्ट्रीय पहचान को, यूपी की नई इंटरनेशनल एयर कनेक्टिविटी नए आयाम दे रही है।

डबल इंजन सरकार की ताकत की वजह से ये सब हो सका

2 दशक पहले यूपी की भाजपा सरकार ने जेवर एयरपोर्ट प्रोजेक्ट का सपना देखा था। उसके बाद ये एयरपोर्ट अनेक सालों तक दिल्ली और लखनऊ में जो सरकारें रहीं, उनकी खींचतान में उलझा रहा। यूपी में पहले जो सरकार थी, उसने तो बकायदा चिठ्ठी लिखकर तब की केंद्र सरकार को कह दिया था कि इस प्रोजेक्ट को बंद कर दिया जाए, लेकिन आज डबल इंजन सरकार की ताकत से हम उसी एयरपोर्ट के शिलान्यास के साक्षी बन रहे हैं।

हम राष्ट्र प्रथम की भावना पर चलते हैं

इंफ्रास्ट्रक्चर हमारे लिए राजनीति का नहीं बल्कि राष्ट्रनीति का हिस्सा है। हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि प्रोजेक्ट्स अटके नहीं, लटके नहीं, भटके नहीं। हम ये सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि तय समय के भीतर ही इंफ्रास्ट्रक्चर का काम पूरा किया जाए। हमारे देश में कुछ राजनीतिक दलों ने हमेशा अपने स्वार्थ को सर्वोपरि रखा है। इन लोगों की सोच रही है- अपना स्वार्थ, सिर्फ अपना खुद का, परिवार का विकास। जबकि हम राष्ट्र प्रथम की भावना पर चलते हैं।


पीएम मोदी मंच पर पहुंचे और एयरपोर्ट का शिलान्यास किया

पीएम मोदी ने मुख्य मंच पर पहुंचते ही जनता और नेताओं का अभिवादन किया। कुछ ही देर में शिलान्यास का कार्यक्रम शुरू हो होने वाला है। मंच पर ही पीएम मोदी को पटका और श्रीकृष्ण की मूर्ति भेंट की गई है। इसके बाद पीएम मोदी ने नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का शिलान्यास किया।

जेवर एयरपोर्ट से 1 लाख लोगों को नौकरी मिलेगी

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि जेवर एयरपोर्ट दिल्ली एयरपोर्ट से भी बड़ा होगा, जेवर के लोगों की आंखों में आज नई चमक आई है। जेवर एयरपोर्ट से 1 लाख लोगों को नौकरी मिलेगी और इससे 60 हजार करोड़ का निवेश आएगा।

पीएम मोदी जेवर एयरपोर्ट पहुंचे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जेवर पहुंच गए हैं। सीएम योगी ने पीएम मोदी का स्वागत किया है। यहां वो एयरपोर्ट के लिए भूमि पूजन करेंगे, उसके बाद जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

पीएम को भेंट किया गया स्मृति चिन्ह

मॉडल देखने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया है। इसके बाद वह मंच की ओर बढ़ गए हैं।

पीएम मोदी बताई जा गईं खासियत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभास्थल पर पहुंचे। इसके बाद उन्हें एनिमेशन के जरिए एयरपोर्ट की खासियतों और पूरे मॉडल को दिखाया गया।

जेवर हवाईअड्डा हर साल सात करोड़ यात्रियों को संभालेगा

सरकार आने वाले वर्षों में दिल्ली के हवाई अड्डे से यातायात को जेवर हवाई अड्डे की ओर मोड़ने की उम्मीद कर रही है। नागरिक उड्डयन सचिव राजीव बंसल ने कहा, "पहले चरण में प्रति वर्ष लगभग 12 मिलियन यात्रियों के आने की उम्मीद है और अंतिम चरण के पूरा होने तक, यानी 2040 और 50 के बीच, जेवर हवाई अड्डा प्रति वर्ष 70 मिलियन यात्रियों को संभालने में सक्षम होगा।

यूपी में 17 एयरपोर्ट का टारगेट

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि जेवर हवाई अड्डे के साथ उत्तर प्रदेश में पांच अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे होंगे। मुझे यकीन है कि भविष्य में नवरत्न का दर्जा मिलेगा। हमारा लक्ष्य राज्य में कम से कम 17 हवाईअड्डे बनाने का है ताकि इसे देश की विमानन राजधानी बनाया जा सके।

पीएम मोदी ने बुधवार को किया था ये ट्वीट

बता कें कि पीएम मोदी ने बुधवार को अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा था कि कल 25 नवंबर को भारत और उत्तर प्रदेश के बुनियादी ढांचे के निर्माण में एक प्रमुख दिन है। दोपहर 1 बजे नोएडा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशिला रखी जाएगी। इस परियोजना से व्यापार, कनेक्टिविटी और पर्यटन को काफी बढ़ावा मिलेगा। प्रधान मंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, उत्तर प्रदेश भारत का एकमात्र राज्य बन जाएगा जिसके पास पांच अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे होंगे। हवाई अड्डे का विकास कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने और भविष्य के लिए तैयार विमानन क्षेत्र बनाने की दिशा में प्रधान मंत्री के दृष्टिकोण के अनुरूप है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश कुशीनगर हवाई अड्डे और अयोध्या में निर्माणाधीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के उद्धाटन सहित कई नए अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों के विकास को देख रहा है। यह एयरपोर्ट दिल्ली एनसीआर में बनने वाला दूसरा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट होगा। यह इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय (IGI) हवाई अड्डे पर भीड़भाड़ कम करने में मदद करेगा।

Next Story