Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रॉकेट हमले में मारी गई सौम्या संतोष का इजराइल से दिल्ली पहुंचा शव, यहां किया जाएगा अंतिम संस्कार

भारत में इजरायल के मिशन के उप प्रमुख रोनी रेडिडिया क्लेन ने बताया कि इजरायल के अधिकारी सौम्या संतोष के परिवार की देखभाल करेंगे।

कोरोना का हवाई यात्राओं पर भी पड़ा असर- जल्द ही दिल्ली एयरपोर्ट का टर्मिनल-2 अस्थायी तौर पर होने वाला है बंद, जानें किस Terminal से होगा संचालन
X

दिल्ली एयरपोर्ट टर्मिनल-2

सप्ताह की शुरुआत में फिलिस्तीनी रॉकेट हमले में मारी गई सौम्या संतोष का शव शनिवार सुबह इजरायल से दिल्ली पहुंचा। इसकी जानकारी खुद केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन और इजराइल के डिप्टी राजदूत रोनी येदिदिया क्लेन ने सौम्या के परिवार को श्रद्धांजिल दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि सौम्या संतोष का शव इजरायल से भारत आ गया है। अब उनका शव दिल्ली पहुंच गया है। जिसे रोड के रास्ते केरल भेजा जाएगा।

दरअसल, केरल निवासी 30 साल की सौम्या संतोष शव को लेकर विमान बेन गुरियन इजराइल के हवाई अड्डे से शुक्रवार शाम जहाज शव लेकर रवाना हुआ। यह जानकारी इजरायल के दूतावास ने ट्वीट कर शेयर की। शनिवार सुबह सौम्या का शव दिल्ली पहुंच गया है। यहां से उनका शव बाय रोड केरल ले जाया जाएगा। जहां सौम्या संतोष का अंतिम संस्कार किया जाएगा। वी मुरलीधरन ने परिवार को सांत्वना देते हुए उनके शव को केरल ले जाने की जानकारी दी।

मौत से पहले पति से वीडियो कॉलिंग पर बात कर रही थी सौम्या

केरल की सौम्या संतोष इजरालय में एक केयर गिवर के रूप में काम कर रही थी। वह इजरायल के शहर एस्केलन में रह रही इमारत हमास द्वारा दागे गए रॉकेट से टकरा गई थी। उस वक्त वह अपने पति से वीडियो कॉल पर बात कर रही थी। इसी हादसे में सौम्या की मौत हो गई। वहीं इसका पता लगते ही केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने सौम्या संतोष का शव वापस भारत लाने के लिए इजरायल दूतावास से संपर्क किया था। संतोष सिर्फ 32 साल की थी। वहीं भारत में इजरायल के मिशन के उप प्रमुख रोनी रेडिडिया क्लेन ने बताया कि इजरायल के अधिकारी सौम्या संतोष के परिवार की देखभाल करेंगे। उनका एक नौ साल का बेटा भी है। इजराइली दूतावास ने परिवार के प्रति अपना दुख और संवेदनाएं भी प्रकट की और उनके घर पहुंचे।

Next Story